Chennai: कोरोना संक्रमण से लडऩे में बुजुर्गों ने दिखाया दम, 29 बुजुर्ग कोरोना से जंग जीतकर लौटे


-स्टेनली सरकारी अस्पताल से 29 बुजुर्ग कोरोना से जंग जीतकर लौटे

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 19 Sep 2020, 08:29 PM IST

चेन्नई.

कोरोना वायरस के चपेट में आने वाले बुजुर्गों की बेशक संक्रमण से मौत हुई है लेकिन, स्टेनली सरकारी मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के 60 साल से ज्यादा उम्र वाले बुजुर्गों की मजबूत इच्छाशक्ति के सामने कोरोना ने दम तोड़ दिया। अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती अंबत्तूर के ओल्ड ऐज होम के 29 बुजुर्ग शुक्रवार शाम को कोरोना को मात देकर डिस्चार्ज हो गए। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई और अब उन्हें खुशी है कि वे घर जा सकेंगे।

 

29 from old age home beat Covid with help from Stanley hospital

 

ओल्ड ऐज होम आनंदम में रहने वाली 81 वर्षीय वी. पार्वती का कहना है कि कोरोना पॉजिटिव होने के बाद स्टेनली सरकारी अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में भर्ती कराया गया। हालांकि अस्पताल जाते समय कुछ घबराहट थी लेकिन, यहां पहुंचने के बाद रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का नियम जारी रखा। हमें पता था कि कोरोना का सबसे ज्यादा असर हम पर होने वाला है लेकिन हमनें हार नहीं मानी और दृढ़ संकल्प और काउंसिलिंग के साथ ही बेहतर डाइट से शरीर में किसी तरह की कमजोरी नहीं हुई। दोबारा हुए कोरोना टेस्ट में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

अस्पताल के एक अधिकारी ने बताया कि कोराना को मात देने वाले 29 बुजुर्गो में 21 महिलाए और 8 पुरुष है, जिनकी उम्र 60 से लेकर 95 के बीच है। ये सभी वे लोग है जिनका परिवार नहीं है या फिर उनका परिवार ने उन्हेें छोड़ दिया है। सभी बुजुर्ग 5 सितम्बर को कोरोना के चपेट में आ गए थे।
उन्होंने बताया कि बुजुर्गों की इच्छाशक्ति जाहिर कर चुकी है कि कोरोना को हाराना कठिन नहीं। अब तक 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग कोरोना संक्रमण को मात देकर अपने घर जा चुके हैं। अब वो पूरी तरह स्वस्थ हैं। शारीरिक व्यायाम के साथ खानपान से भी खुद का ध्यान रखा है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned