Tamilnadu: सड़कों की हालत पर न्यायालय ने मांगी रिपोर्ट

मद्रास हाइकोर्ट (Madras highcourt) ने सड़कों के रखरखाव एवं उनकी स्थिति को लेकर संबंधित विभागों से रिपोर्ट मांगी है। न्यायाधीश एम. सत्यनारायणन एवं न्यायाधीश आर. हेमलता की पीठ ने यह रिपोर्ट मांगी है।

चेन्नई. मद्रास हाइकोर्ट ने सड़कों के रखरखाव एवं उनकी स्थिति को लेकर संबंधित विभागों से रिपोर्ट मांगी है। न्यायाधीश एम. सत्यनारायणन एवं न्यायाधीश आर. हेमलता की पीठ ने यह रिपोर्ट मांगी है।
स्टेटस रिपोर्ट में बताया गया है कि अक्टूबर 2019 तक चेन्नई को छोड़ शेष तमिलनाडु में 47,87,812 मामले हेलमेट नहीं पहनने के कारण बुक किए गए।

हेलमेट न पहनने की वजह से 3535 लोग मारे गए

इस दौरान गंभीर दुर्घटनाओं में हेलमेट न पहनने की वजह से 3535 लोग मारे गए जबकि 347 ऐसे भी मामले थे जिन्होंने हेलमेट पहन रखा था बावजूद उनकी मौत हो गई। इसी तरह आटो चालकों एवं मालिकों के खिलाफ अक्टूबर 2018 तक 4753 तथा अक्टूबर 2019 तक 3023 मामले दर्ज किए गए।

टूटी-फूटी सड़कें भी एक प्रमुख कारण
स्टेटस रिपोर्ट में कहा गया कि दुर्घटनाओं का कारण केवल हेलमेट न लगाना ही नहीं था बल्कि इसके लिए टूटी-फूटी सड़कें भी एक प्रमुख कारण रहा। इसके बाद न्यायालय ने सड़कों की हालत पर संबंधित विभागों से रिपोर्ट मांगी है।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned