उच्च अंकों वाले विद्यार्थियों का विज्ञापन देने वाले स्कूलों के खिलाफ होगी कार्रवाई: सेंगोट्टयन

सेंगोट्टयन ने बुधवार को कहा कि बोर्ड परीक्षा में टॉप अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी का फोटो के साथ विज्ञापन या बैनल लगा कर प्रचार करने वाले स्कूलों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी

By: Vishal Kesharwani

Published: 29 Jul 2020, 05:56 PM IST


चेन्नई. स्कूल शिक्षा मंत्री के.ए. सेंगोट्टयन ने बुधवार को कहा कि बोर्ड परीक्षा में टॉप अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी का फोटो के साथ विज्ञापन या बैनल लगा कर प्रचार करने वाले स्कूलों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। गोबीचेट्टीपालयम के कोड़ीवरी में 2.६९ करोड़ की लागत वाली एनैकट के विकास की परियोजना का उद्घाटन करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा स्कूल विभाग ने पहले ही राज्य के सभी स्कूलों को टॉक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों का प्रचार करने से बचने का निर्देश दिया है। आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

 

दसवीं के विद्यार्थियों को अंक या ग्रेड दिया जाएगा पर उन्होंने कहा कि यह गुप्त है जिसका बाद में खुलासा किया जाएगा। सेंगोट्टयन ने कहा दसवीं और बारहवीं के परिणाम घोषित करने को लेकर अधिकारियों के साथ मंगलवार को चर्चा हुई थी। मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी परिणाम घोषित करने को लेकर एक उचित तिथि तय करेंगे। इसके अलावा मद्रास हाईकोर्ट ने विभाग से राज्य में निजी स्कूलों द्वारा संचालित ऑनलाइन कक्षाओं को विनियमित करने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में भी पूछा था।

 

इस संबंध में भी विस्तृत रूप से चर्चा की गई है और जल्द ही कोर्ट को इसकी जानकारी दी जाएगी। कोर्ट के निर्देशानुसार आगे की कार्रवाई होगी। 27 जुलाई को बारहवीं के एक पेपर की हुई परीक्षा में कम विद्यार्थी क्यों भाग लिए के जवाब में मंत्री ने कहा 34 हजार 842 विद्यार्थी गत 24 मार्च को हुए परीक्षा में शामिल नहीं हुए थे और परीक्षा लिखने के लिए सभी की इच्छा जानी गई थी। परीक्षा लिखने के लिए सरकार की ओर से सभी व्यवस्थाएं भी की गई थी लेकिन फिर भी सभी विद्यार्थी परीक्षा लिखने के लिए नहीं आए।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned