चेन्नई के एटीएम में हुई कमाल की कारीगरी, मशीन में उंगली डालकर चोरों ने उड़ाए 35 लाख रुपए

- बैंक अधिकारियों के उड़ गए होश

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 21 Jun 2021, 06:21 PM IST

चेन्नई.

चेन्नई में नए तरीके से एटीएम हैकिंग की वारदात सामने आई है। चेन्नई के अलग-अलग इलाकों में बदमाशों ने कारीगरी कर एटीएम में लगे कैश डिपॉजिट मशीन में एटीएम लगाकर 35 लाख रुपए से अधिक नगदी निकाल लिए। पैसे निकलते ही हैकर ने मशीन में उंगली फंसा दी, जिससे कैश निकालने वाला सेक्शन चोक होकर वहीं रुक गया।

इसके बाद बदमाशों ने एटीएम कार्ड डालकर फिर से 10 हजार निकालने का प्रयास किया। जैसे ही रुपए निकले, इसके बाद एक-एक कर इन्होंने कई बार ऐसा किया। चोरी का नया तरीका स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम में हुआ। बदमाशों के सीसीटीवी फुटेज पुलिस को प्राप्त हो गए जिसके आधार पर उनकी तलाश की जा रही है।

कई पुलिस थानों में शिकायत

सेनॉय नगर के एसबीआई बैंक शाखा के प्रबंधक विरुगमबाक्कम पुलिस में दी शिकायत में कहा कि बदमाश एटीएम में जाकर पैसे निकालते थे। ट्रांजेक्शन होने के बाद जैसे ही पैसे एटीएम से निकलने वाले होते थे। बदमाश पैसे निकलने वाली जगह पर हाथ लगाकर पैसे पकड़ लेते और उन्हें एटीएम से निकलने नहीं देते थे। इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होने के कारण ट्रांजेक्शन कैंसल हो जाता जिसके बाद आरोपी पैसे निकाल लेते। आरोपी दोबारा ट्रांजेक्शन करते हैं और फिर रुपए निकालने के बाद फिर हाथ लगा देते हैं। इस तरह करने से खाते में रुपए भी कम नहीं होते और कई बार रुपए निकाल लिए जाते थे।

इन इलाकों के एटीएम में हुई कारीगरी

चोरी का नया तरीका सामने आने के बाद एसबीआई बैंक के कई शाखाओं के प्रबंधकों ने संबंधित पुलिस थानों में शिकायत दर्ज कराई है। रामापुरम- वल्लूवर रोड स्थित एटीएम, वेलचेरी- विजयनगर, तरमणि, पेरियामेडु में एटीएम लूट की वारदात सामने आई है। कई एटीएम से बदमाशों ने 35 लाख रुपए निकाल लिए। इस दौरान मशीन एरर बताती रही और पैसा लगातार निकालते रहे। इस बात का खुलासा तब हुआ जब बैंक अधिकारियों ने डिपॉजिट मशीन को खोला और लेजर मिलान किया। मिलान के दौरान जमा और निकासी में लाखों रूपए कम पाए गए।

हाईटेक ठग ऐसे करते है ठगी

कैश डिपॉजिट मशीन में अक्सर लोग नगदी जमा करने का ही काम करते हैं। बहुत कम लोगों को ही इस बात की जानकारी है कि इससे नगदी निकासी भी किया जा सकता है। इसी जानकारी का फायदा उठाते हुए बदमाश ठगी की वारदात को अंजाम दे रहे है। एसबीआई की डिपॉजिट मशीन के पास जाकर अपने एटीएम कार्ड से डिपॉजिट मशीन से पैसे निकाल रहे है।

फर्जी किराए पर लेते है बैंक खाते
हालांकि अभी तक ठगों का कोई बड़ा नेटवर्क होने की बात तो सामने नहीं आई है, लेकिन प्रारंभिक जांच में पता चला कि शातिर ठग फर्जी दस्तोवज देकर बैंक में खाता खोलते है और लूट को अंजाम दे रहे है। बैंक अधिकारियों ने पड़ताल की तो पता चला की अलग अलग ब्रांच के एटीएम में इसी तरह की वारदात हुई हैं। बैंक अधिकारियों की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned