AIADMK के 49वें स्थापना दिवस पर उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग नियमों की धज्जियां

अधिकारिक ट्विटर पर फोटो अपलोड की

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 17 Oct 2020, 05:01 PM IST

चेन्नई.

चेन्नई में शनिवार को पार्टी के कार्यालय में एआईएडीएमके का 49वां स्थापना दिवस मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री पलनीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम और अन्य अधिकारी इस कार्यक्रम में शामिल हुए। पार्टी मुख्यालय में इस दौरान भारी संख्या में कार्यकर्ता इकट्ठा हुए।

कार्यक्रम में दौरान शारीरिक दूरी की भी धज्जियां उड़ती हुई नजर आई। भारी संख्या में लोगों का हुजूम एक ही जगह पर इकट्ठा हुआ नजर आया। कम जगह में अधिक भीड़ की वजह से यहां लोग एक-दूसरे के बिल्कुल पास-पास थे। पार्टी के वरिष्ठ नेता पार्टी के कार्यकर्ता और सदस्यों को मिठाई बांटते दिखे।

ज्ञातव्य है कि कोरोना काल में इस वक्त तमिलनाडु देश में संक्रमितों की लिस्ट में सबसे ज्यादा संक्रमित राज्य में शामिल है। ऐसे में पार्टी की तरफ से आयोजित कार्यक्रम में इस प्रकार की लापरवाही सामने आई है। पहले ही देश में इस वक्त कोरोना संकट चल रहा है।

बार-बार सरकार की तरफ से जारी हुई गाइडलाइंस में बताया जा रहा है कि जब तक भयानक वारयस की वैक्सीन नहीं बन जाती है तब तक सभी लोगों को एहतियात बरतना होगा नहीं तो इस वायरस का संक्रमण होने का खतरा रहेगा। जारी किए गए जरुरी दिशा-निर्देश के मुताबिक, सभी लोगों को छह मीटर की दूरी एक दूसरे से बनाई रखनी है और मास्क तो पहनना अनिवार्य है।

अधिकारिक ट्विटर पर फोटो अपलोड की
हैरानी की बात यह है कि राज्य सरकार खुद अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल पर स्थापना दिवस की तस्वीरें अपलोड़ की है जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की पालन नहीं की जा रही है। ऐसे में राज्य के जनता से क्या उम्मीद की जाए।

एआईएडीएमके स्थापना दिवस
ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कडग़म को अन्नाद्रमुक के नाम से भी जाना जाता है। यह भारतीय राजनीतिक दल है। इसकी स्थापना सन 1972 में पूर्व अभिनेता और राजनीतिज्ञ एम जी रामचन्द्रन ने की थी जब वो द्रमुक से अलग हो गए थे। फरवरी 1989 से 5 दिसम्बर 2016 तक एआईएडीएमके का नेतृत्व जे. जयललिता ने किया था जो 6 बार तमिलनाडु की मुख्यमंत्री के रूप में कार्य कर चुकी है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned