केंद्रीय बजट से निराशा के बाद आंध्र प्रदेश बंद

सत्तापक्ष के साथ वामपंथ व सभी विपक्षी दल एकजुट

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 09 Feb 2018, 03:54 PM IST

नेळ्ळोर.केंद्रीय बजट स आंध्र प्रदेश को निराशा मिलने के बाद सत्तापक्ष के साथ वामपंथी दलों व अन्य विपक्षी दलों ने गुरुवार को राज्य बंद रखा। बंद का पूरे राज्य में व्यापक असर दिखा। इस दौरान स्कूल-कालेज, व्यावासिक संस्थान, आरटीसी बस डिपो तक बंद रहे। शहर के भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में भी सड़कें सूनी दिखाई दीं। सुरक्षा को लेकर चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात दिखी। विपक्षी पार्टी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी, कम्युनिस्ट पार्टी, सीपीएम, सीपीआई, सीआईटीयू, कांग्रेस और पवन कल्याण की जनसेना पार्टी के सभी नेताओ और कार्यकर्ताओं के साथ सत्ताधारी पार्टी तेदेपा के नेताओ ने केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। एनडीए के साथी तेलुगु देसम पार्टी के नेताओ ने वेंकटचलम के राष्ट्रीय मार्ग पर धरना प्रदर्शन किया। सर्वेपल्ली के पार्टी इंचार्ज एस राजगोपाल रेड्डी के नेतृत्व में राष्ट्रीय मार्ग को घंटो तक जाम किया गया। केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्ले काड्र्स दिखाए। बंद को सफल बनाने के लिए जनता से सहयोग मांगा गया। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने बंद के समर्थन में अपनी प्रजा संकल्प यात्रा को भी विराम दिया। वहीं, नेल्लोर के गाँधी भोम्मा सेण्टर, वीआरसी सेण्टर, आरटीसी बस स्टैंड, आत्मकूर बसस्टैंड पर अलग अलग पार्टी के नेताओ ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी की और पीएम पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया।
वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के शहर के विधायक अनिल कुमार यादव ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने आंध्र प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया है। राज्य के विभाजन के समय 15 साल तक विशेष राज्य का दर्जा देने पर संसद में नरेंद्र मोदी की सरकार के नेता और वत्र्तमान के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने मुद्दा उठाया था। जबकि सत्ता में आने पर वह सब भूल गए है। वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेता वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने केंद्र पर भेदभाव का आरोप लगाया। कहा- केंद्र सरकार ने 4 बजेट पेश किए उसमें आंध्र प्रदेश को कुछ भी नहीं मिला। इस दौरान विधायकों के साथ शहर के सभी विपक्षी पार्षद, स्थानीय नेता और कार्यकर्ता भी दिखे।
सीपीएम के नेताओ ने केंद्र हमला करते हुए कहा कि केंद्र सरकार आंध्र प्रदेश की जनता के साथ खिलवाड़ कर रही है। राज्य के युवाओ के लिए केंद्रीय बजट में कुछ भी नहीं है। कहा- सत्ताधारी पार्टी तेदेपा सिर्फ दिखावे के लिए प्रदर्शन कर रही है। जब वित्तमंत्री संसद में भाषण दे रहे थे तब सत्ता पक्ष कहां कहां सो रहा था।

Arvind Mohan Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned