1.38 करोड़ का कोई दावेदार नहीं

चुनाव आयोग की टीम की ओर  से जब्त 1 करोड़ 38 लाख रुपए पर अभी तक किसी ने दावा नहीं किया है।

By: मुकेश शर्मा

Published: 30 Apr 2016, 11:56 PM IST

कोयम्बत्तूर ।चुनाव आयोग की टीम की ओर  से जब्त 1 करोड़ 38 लाख रुपए पर अभी तक किसी ने दावा नहीं किया है। प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार चुनाव आयोग की आचार समिहता लागू होने के बाद से अब तक बिना वैध दस्तावेजों के ले जाई जा रही पचास  हजार से अधिक राशि जब्त की जा रही है। जिले के दस विधानसभा क्षेत्रों में इस कार्रवाई के लिए अलग-अलग टीमें गठित की गई हैं।

अधिक राशि होने पर आयकर विभाग को भी जांच में शामिल किया जाता है। अभी तक जिले में 25 करोड़ 56 लाख की राशि बरामद की गई थी। इसमें से 24 करोड़ 18 लाख रुपए बाद में वैध दस्तावेज दिखाने पर उनके मालिकों को लौटा दी गई। लेकिन इस सप्ताह  कर्नाटक रोडवेज की बस की जांच के दौरान दो यात्रियों से मिले 1 करोड़ 34 लाख रुपए का कोई दावेदार अभी तक सामने नहीं आया  है। बस यात्रियों से इतनी बड़ी राशि  मिलने पर  चुनाव आयोग के गश्ती दल ने  आयकर विभाग को सूचना दी। राशि के ोत की जानकारी नहीं देने पर यह मामला आयकर विभाग को सौंप दिया गया है। इसी तरह 2 लाख 49 हजार रुपए भी अभी जिला कोषागार में जमा है। इस राशि के दावेदार का भी इंतजार किया जा रहा है।

 
उल्लेखनीय है कि चुनाव को  प्रभावित करने के लिए नकदी के दुरुपयोग को रोकने को यह कवायद की जा रही है। नकदी के अलावा बड़ी मात्रा में आयोग की टीम ने टी  शर्ट, धोतियां व अन्य सामान भी जब्त की है। आयोग को ऐसी शिकायतें मिलती रही है कि चुनाव में जीत के लिए कुछ प्रत्याशी वोटरों को नकदी के अलावा टी शर्ट व धोती बांटते हैं।
मुकेश शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned