चेन्नई में भज्जी खाने के बाद दम घुटने से महिला की हुई मौत

सनसनीखेज मामला: मुंह में पानी डाल कर किसी तरह सांस वापस लाने की जुगत लगाते रहे लेकिन उसकी स्थिति नाजुक बनी रही।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 03 Jan 2020, 07:59 PM IST

चेन्नई.

चेन्नई के चूलैमेडु में एक सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है जिसमें भज्जी खाने के बाद दम घुटने से एक ४५ वर्षीया महिला की मौत हो गई। डॉक्टरों के अनुसार भज्जी खाने के बाद महिला को सांस लेने में तकलीफ हुई जिसके बाद उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद इलाके में हर कोई हैरान है कि भज्जी खाने के बाद किसी की मौत कैसे हो सकती है?


दुकान की भज्जी से हुई मौत
मृतका की पहचान चूलैमेडु निवासी गंगाधरन (४८) की पत्नी पदमावत्ती है। गंगाधरन रॉयपेट्टा में दुपहिया वाहन के स्पेयर पार्ट्स बेचने वाली दुकान में काम करते है। गंगाधरन अपनी पत्नी के परिवार के साथ चूलैमेडु के कामराजर स्ट्रीट स्थित मकान में रहते है। दरअसल, गंगाधरन और पदमावत्ती की शादी ११ साल पहले हुई थी। दम्पती नि:संतान है।

सांस वापस लाने की जुगत लगाते रहे
पुलिस सूत्रों ने बताया कि गुरुवार को गंगाधरन काम पर गया था। गुरुवार शाम को पदमावत्ती अपनी मां और अन्य रिश्तेदारों के साथ पास के दुकान से भज्जी खरीद कर घर ले गए और घर के सभी सदस्यों ने भज्जी खाया। भज्जी पदमावत्ती के गले में अटक गया और उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगी। पदमावत्ती को हांफते देख उसकी मां ने पीने के लिए पानी दिया लेकिन उससे उसपर कोई असर नहीं हुआ।

उसकी सांस लगातार फूलती जा रही थी। उसके परिजनों ने मुंह में पानी डाल कर किसी तरह सांस वापस लाने की जुगत लगाते रहे लेकिन उसकी स्थिति नाजुक बनी रही। आनन-फानन में पदमावत्ती को एम्बुलेंस की मदद से कीलपॉक मेडिकल अस्पताल ले गए लेकिन डॉक्टरों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया।

हर कोई है हैरान
पुलिस सूत्रों ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया। चुलैमेडु पुलिस ने अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया है। वहीं पदमावत्ती के पति और परिजन के साथ-साथ इलाके में सभी लागे सन्न है, ये जानकार आखिर ये कैसे हो सकता है। लोग एक दूसरे से सवाल पूछ रहे है लेकिन किसी को सवाल का जवाब नहीं मालूम।

Show More
PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned