जरूरत पडऩे पर होगी सीबीआई जांच : सरकार

जरूरत पडऩे पर होगी सीबीआई जांच : सरकार

Ritesh Ranjan | Publish: Apr, 17 2018 09:31:29 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

उच्चाधिकारियों के साथ अनैतिक कार्य करने को कहने वाली सहायक प्रोफेसर के मामले को गंभीरता से लेते हुए राज्य सरकार ने मंगलवार को कहा


चेन्नई. उच्चाधिकारियों के साथ अनैतिक कार्य करने को कहने वाली सहायक प्रोफेसर के मामले को गंभीरता से लेते हुए राज्य सरकार ने मंगलवार को कहा कि अगर जरुरत पड़ी तो मामले में सीबीआई जांच का आग्रह किया जाएगा। यहां संवाददाताओं से बातचीत में उच्च शिक्षा मंत्री के. पी. अन्बझगण ने कहा सच्चाई को सामने लाने के उद्देश्य से इस मामले में पहले से ही जांच का आदेश दिया जा चुका है। इसमें लिप्त सभी लोगों के खिलाफ उचित कार्रवाई तो होगी ही, साथ ही जरूरत पडऩे पर सीबीआई जांच का भी आग्रह किया जाएगा।
एक सवाल, जिसमें विपक्षी दलों का आरोप था कि इस मामले में राज्यपाल जांच का आदेश नहीं दे सकते, के जवाब में उन्होंने कहा राज्यपाल राज्य के नेतृत्व वाले विश्वविद्यालय के चांसलर हैं इसलिए जांच के आदेश देने का उनको पूरा अधिकार है। इसी बीच पुलिस अधिकारियों द्वारा दूसरे दिन भी निलंबित सहायक प्रोफेसर से पूछताछ की जा रही है। सूत्रों के अनुसार महिला ने प्रत्येक आरोप से इंकार कर दिया है।

कमल हासन बना रहे कोयम्बत्तूर दौरे की योजना
-लोगों से करेंगे मुलाकात
चेन्नई. मदुरै जिले में अपनी पार्टी की शुरुआत करने और तिरुचि में लोगों से मुलाकात के बाद अब अभिनेता से नेता बने एमएनएम के संस्थापक कमल हासन कोयम्बत्तूर का दौरा कर लोगों से मुलाकात करने की योजना बना रहे हैं। पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने बताया कि ११ से १३ मई तक कमल हासन कोयम्बत्तूर के दौरे पर होंगे। अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान अभिनेता तिरुपुर, नीलगिरि सहित अन्य जगहों पर जाकर मजदूरों और किसानों सहित अन्य लोगों से मुलाकात कर उनकी परेशानियां सुनेंगेे। इसके साथ ही दौरे के आखिरी दिन कोयम्बत्तूर में सार्वजनिक बैठक की भी योजना बनाई है जिसमें उनके प्रशंसकों सहित भारी संख्या में अन्य लोग शामिल होंगे।
गौतरलब है कि हाल ही कमल हासन ने जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ हुए बलात्कार और हत्या वाले मामले पर आक्रोश व्यक्त किया था। ट्वीट कर उन्होंने कहा था कि किसी की पीड़ा को समझने के लिए क्या वह हमारी बेटी होना जरूरी है? एक व्यक्ति, एक पिता के रूप में किसी भी बच्ची के साथ ऐसी बर्बरता वाली घटना पर क्रोध आता है। बच्ची के साथ जो हुआ उसे रोकने के लिए हमने देश में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था ही नहीं की है लेकिन भविष्य में बच्चों की सुरक्षा के लिए संघर्ष किया जाएगा।

स्टरलाइट कंपनी देना चाहती थी रिश्वत: राधाकृष्णन
तुत्तुकुड़ी. भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री पोन. राधाकृष्णन ने चौंकाने वाला खुलासा करते हुए कहा है कि तुत्तुकुड़ी स्थित स्टरलाइट कॉपर प्लांट ने उन्हें रिश्वत देने की कोशिश की थी। यहां संवाददाताओं से वार्ता में उन्होंने कहा कुछ चीजों पर बातचीत करने के लिए उनके पास कंपनी के कुछ पदाधिकारी आए थे। जब उन लोगों ने रिश्वत देने की बात की तो मैने इंकार कर दिया। उसके बाद चुनाव अभियान के दौरान भी कुछ लोग रिश्वत लेकर आए थे लेकिन उस भी ठुकरा दिया। कंपनी के साथ किसी भी प्रकार का संबध होने की बात से इंकार करते हुए उन्होंने कहा उन्होंने स्टरलाइट के खिलाफ चार दिन तक सडक़ पर आकर प्रदर्शन किया था।
गौतरलब है कि तुत्तुकुड़ी स्थित स्टरलाइट कंपनी के विरोध में पिछले कई महीनों स्थानीय लोगों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। यहां तक कि अभिनेता कमल हासन और सुपरस्टार रजनीकांत भी प्रदर्शनकारियों के समर्थन में आ गए थे।

Ad Block is Banned