सुविधाओं की कमी के चलते चेन्नई के सरकारी अस्पतालों में रेफर किए जा रहे राज्य भर के मरीज

सुविधाओं की कमी के चलते चेन्नई के सरकारी अस्पतालों में रेफर किए जा रहे राज्य भर के मरीज

Purushotham Reddy | Updated: 04 Jun 2019, 01:55:15 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

सुविधाओं की कमी के चलते चेन्नई के सरकारी अस्पतालों में रेफर किए जा रहे राज्य भर के मरीज

चेन्नई. सुविधाओं की कमी के चलते बड़ी संख्या में तिरुनेलवेली, तूत्तुकुड़ी, मदुरै, कोयंबत्तूर एवं वेलूर आदि जिलों के पोस्ट सर्जरी के मरीजों को चेन्नई के सरकारी अस्पतालों में रेफर किया जा रहा है।

सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों ने आपातकालीन मामलों की देखरेख के लिए प्रशिक्षित कर्मचारियों एवं सुविधाओं की कमी को इसका जिम्मेदार ठहराया। गौरतलब है कि हर महीने लगभग 15 मामले महानगर के प्रत्येक सरकारी अस्पतालों में रेफर किए जाते हैं।

शहर के सरकारी अस्पतालों में आए दिन गलत सर्जरी के रेफर किए हुए मामले आते रहते हैं। कीलपॉक मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. पी. वसंतामणि के मुताबिक आमतौर पर उपनगरीय एवं गैर जिला मुख्यालयों के सरकारी अस्पतालों में एक या दो सर्जन नियुक्त किए जाते हैं।

ऐसे में कर्मचारियों की कमी के चलते आपात सर्जरी के मामलों को जिला मुख्यालयों के अस्पतालों में रेफर करना पड़ता है। उल्लेखनीय है कि राज्य भर में लगभग 1 हजार पेडियाट्रिक सर्जन हैं और हर साल 25 हजार से भी अधिक सर्जरी की जाती है।

सूत्रों के मुताबिक इनमें से अधिकांश सर्जरी राज्य के प्रमुख बाल चिकित्सा संस्थान इन्स्टीट्यूट ऑफ चाइल्ड हेल्थ (आईसीएच) चेन्नई में होती है।

आईसीएच के सहायक निदेशक डॉ. जयचंद्रन के मुताबिक अधिकांश सरकारी अस्पतालों में पेडियाट्रिक सर्जन नहीं होने के कारण 20 हजार से अधिक सर्जरी आईसीएच में की जा रही है। केवल सरकारी ही नहीं कई निजी अस्पतालों से भी गलत सर्जरी के मामले चेन्नई के सरकारी अस्पतालों में रेफर किए जा रहे हैं।

डॉक्टर्स एसोसिएशन ऑफ सोशल इक्वेलिटी के सचिव डॉ. जी. रवींद्रनाथ ने कहा कि निजी अस्पतालों में सर्जरी का खर्ज काफी अधिक और अप्रभावी है। इस खर्च को वहन करने में असमर्थ होने के चलते भी काफी मरीजों को अंत में सरकारी अस्पताल रेफर कर दिया जाता है।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned