chennai news in hindi : कार्रवाई की मांग करते हुए अस्पताल के नर्सिंग छात्रों ने किया प्रदर्शन

chennai news in hindi : कार्रवाई की मांग करते हुए अस्पताल के नर्सिंग छात्रों ने किया प्रदर्शन

shivali agrawal | Updated: 20 Jul 2019, 01:57:30 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

हाल ही में सरकारी कस्तूरबा गांधी अस्पताल Government Kasturba Gandhi Hospital
में एक मरीज patient की मौत death के बाद उसके परिजनों द्वारा नर्सिंग Nursing की पांच छात्रों पर किए गए हमले attack की निंदा करते हुए शुक्रवार को नर्सिंग छात्राओं Nursing students ने प्रदर्शन protest कर सुरक्षा protection की मांग की।

चेन्नई. हाल ही में सरकारी कस्तूरबा गांधी अस्पताल Government Kasturba Gandhi hospital
में एक मरीज patient की मौत death के बाद उसके परिजनों kin द्वारा नर्सिंग Nursing की पांच छात्रों पर किए गए हमले attack की निंदा करते हुए शुक्रवार को नर्सिंग छात्राओं Nursing students ने प्रदर्शन protest कर सुरक्षा protection की मांग की। यहां रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर रूम के बाहर इकट्ठा होकर छात्राओं ने मरीज के परिजनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए नारेबाजी की। साथ ही अस्पताल परिसर में सुरक्षा बढ़ाने का आग्रह किया। मेडिकल एजुकेशन के निदेशक डॉ ए. एडविन जॉय ने अस्पताल का दौरा कर प्रदर्शनकारियों से चर्चा की। जिसके बाद नर्सों ने प्रदर्शन रोका। जॉय ने आश्वासन दिया कि अस्पताल के मुख्य जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे और प्रवेश पर प्रतिबंध के लिए अटेंडर पास जारी किए जाएंगे। सुरक्षाकर्मी गेट के पास खड़े होने के बजाय अस्पताल के चारों तरफ पेट्रोलिंग करेंगे।
एक छात्र ने बताया कि गत १७ जुलाई को ६२ वर्षीय एक वृद्ध महिला अस्पताल के महिला वार्ड में भर्ती हुई थी। एक एंटीबायोटिक इंजेक्शन लगाए जाने के बाद महिला को खून की उल्टी होने लगी थी। उस समय वार्ड में ना तो कोई डॉक्टर था और ना ही कोई नर्स। जिसकी वजह से हम लोगों को इंजेक्शन देने को कहा गया था। जब मरीज को खून की उल्टी होने लगी तो उन्हें स्ट्रेचर पर लेटा कर आपातकालीन कक्ष में ले जाया गया। जब वहां डॉक्टर महिला की जांच कर रहे थे तो महिला के परिजनों ने हम लोगों पर हमला करना शुरू कर दिया। हमको ईआर से आरएमओ कार्यालय तक दौड़ाया गया। अस्पताल के किसी भी सदस्य ने उनको रोकने की कोशिश नहीं की।
डॉक्टर जीआर रविन्द्रनाथ ने बताया कि परिजनों ने मीडिया को भी अंदर जाकर छात्रों के साथ बातचीत करने नहीं दिया। उन लोगों ने नर्सों को ऑडिटोरिम में बंद कर दिया था। अस्पताल के निदेशक डॉ एस. विजया ने नर्सिंग छात्राओं से बातचीत की। उन्होंने कहा कि वार्ड में उपस्थित नर्स अन्य मरीज के लिए ब्लड ग्रुप का पता लगाने के लिए गई थी कि अचानक से महिला को खून की उल्टी होने लगी। जिसके बाद मरीज के परिजनों ने छात्राओं को दौड़ा कर उन पर हमला किया। इस बात की पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई गई है। हमला करने वालों पर कार्रवाई होगी।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned