chennai news in hindi : ‘सुरा’ और ‘ईंधन’ से चल रही सरकार - कर राजस्व का ४८ फीसदी हिस्सा

chennai news in hindi : ‘सुरा’ और ‘ईंधन’ से चल रही सरकार - कर राजस्व का ४८ फीसदी हिस्सा

shivali agrawal | Updated: 11 Jul 2019, 04:03:19 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

जनकल्याणकारी योजनाओं में अव्वल तमिलनाडु tamilnadu के लिए विडम्बना यह है कि शराब और ईंधन की बिक्री के कर राजस्व revenue से सरकार चल रही है। जो कुल कर राजस्व का ४८ फीसदी है।

चेन्नई. जनकल्याणकारी योजनाओं में अव्वल तमिलनाडु tamilnadu के लिए विडम्बना यह है कि शराब और ईंधन की बिक्री के कर राजस्व revenue से सरकार चल रही है। जो कुल कर राजस्व का ४८ फीसदी है। विधानसभा में वाणिज्यिक कर विभाग के पॉलिसी नोट में यह आंकड़ा दर्शित है।
इस नोट के हिसाब से २०१८-१९ में ८७९०५.२६ करोड़ की कर आय हुई। इस राशि में ४२४१४.९६ करोड़ रुपए की आय तेल व शराब पर लगाए करों से है। सरकार को जीएसटी GST के एवज में क्षतिपूर्ति के तौर पर पिछले साल केंद्र सरकार से ३१५१ करोड़ रुपए भी मिले।
सरकार के अनुसार कर उगाही में २०.१७ प्रतिशत इजाफा हुआ है। २०१८-१९ का कर संग्रहण १४ हजार ७५६.४८ करोड़ रुपए बढ़ा है। कर आय में जीएसटी की क्षतिपूर्ति और समग्र जीएसटी सेटलमेंट भी शामिल है।
वाणिज्यिक कर मंत्री के. सी. वीरमणि ने विधानसभा को सूचित किया कि जीएसटी लागू किए जाने के बाद राज्य में कारोबारियों की पंजीयन संख्या चार लाख बढ़ी है। वर्तमान में १०.३० लाख पंजीयत टे्रडर्स हैं जो जुलाई २०१७ में ६.३८ लाख थे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned