Chennai news in hindi : सस्पेंस समाप्त: वाइको का नामाकंन पत्र स्वीकार

एमडीएमके MDMK महासचिव वाइको vaiko का राज्यसभा के लिए नामाकंन nomination स्वीकार कर लिया गया है।

चेन्नई. एमडीएमके MDMK महासचिव वाइको vaiko का राज्यसभा के लिए नामाकंन nomination स्वीकार कर लिया गया है। नामाकंन के स्वीकार होने के बाद उनका राज्यसभा सीट तक पहुंचने का रास्ता आसान हो गया है। उल्लेखनीय है कि एमडीएमके के प्रमुख गोपालस्वामी वाइको को लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम लिट्टे के समर्थन में अत्यधिक भडक़ाऊ भाषण देने के आरोप में साल 2009 के मुकदमें में आज सांसदों और विधायकों के मामलों की सुनवाई के लिए विशेष अदालत court ने वाइको को देशद्रोह के मामले में एक साल की सजा, 10 हजार रुपये का जुर्माने की सजा सुनाई है। वाइको अब लगभग दो दशकों बाद राज्यसभा में प्रवेश करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास था कि उनका नामाकंन स्वीकार कर लिया जाएगा। उन्होंने छह जुलाई को अपना नामाकंन भरा था, उस समय उनके साथ डीएमके प्रमुख Stalin के साथ ही डीएमके के बड़े नेता भी उपस्थित थे। लेकिन नामाकंन भरने की आखिरी तारीख को डीएमके ने एन. आर. इलंगो को उनके बैकअप के रूप में पेश कर दिया था। इस बात पर वाइको का कहना है कि एमडीएमके और डीएमके DMK के बीच में किसी भी तरह की परेशानी नहीं है। उन्होंने भावुक होते हुए कहा कि ये मीडिया की फैलाई हुई बातें हैं। मैने दो बार केंद्रीय मंत्रिमंडल में सीट अस्वीकार की है। उन्हें राजद्रोह के मामले में मिली सजा के बाद ये आशंका जताई जा रही थी कि उनका नामाकंन स्वीकार ही न किया जाए।

Show More
shivali agrawal
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned