बिना वैध दस्तावेज के चार साल से चेन्नई में रह रहा था ईरानी नागरिक, गिरफ्तार

- विदेशी अधिनियम का उल्लंघन

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 12 May 2021, 08:37 PM IST

चेन्नई.

एण्णूर पुलिस ने बिना पासपोर्ट, वीजा के एक विदेशी नागरिक मोसारा डोलन (39) को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार विदेशी नागरिक ईरान का रहने वाला है और वह एण्णूर के आलनकुप्पम इलाके में बिना किसी वैध दस्तावेज के चार साल से रह रहा था। पुलिस ने ईरान के इस नागरिक से जब पासपोर्ट व वीजा दिखाने को कहा तो वह दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर पाया। आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ विदेशी अधिनियम का उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एण्णूर पुलिस को सूचना मिली कि आनलकुप्पम इलाके में विदेशी नागरिक कई सालों से यहां ठहरा हुआ है। स्थानीय निवासियों ने उसके बारे में सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंच गई और मोसारा से पूछताछ की। उसने ईरान का नागरिक होने की पुष्टि की। इसके बाद पुलिस ने उसे पासपोर्ट और वीजा दिखाने के लिए कहा। लेकिन उसके पास कोई भी दस्तावेज नहीं थे।

पूछताछ में पता चला कि वह 2018 में टूरिस्ट वीजा पर चेन्नई आया था और तब से यहीं रह रहा है। पुलिस ने बताया कि वह फुटपाथ पर गिटार बजाकर गाना गाता और लोगों से पैसे मांगकर बसा था। मामले में सीधे तौर पर विदेशी एक्ट का उल्लंघन पाया गया। इसके आधार पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। उन्होंने कहा कि विदेशी से पुलिस पूछताछ कर रही है। मामले में सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर छानबीन की जा रही है।

विदेशी पर्यटकों के लिए भारत यात्रा को सुविधाजनक बनाते हुए वर्ष 2014 में भारत सरकार ने नौ नामित भारतीय हवाईअड्डों से 43 देशों के लिए ई-पर्यटक वीजा योजना शुरू कर दिया। सरकार ने क्रमश: जनवरी, 2015 और अप्रैल, 2015 में गुयाना और श्रीलंका के नागरिकों के लिए इस योजना का विस्तार किया। ई-टूरिस्ट वीजा के तहत मई 2015 में 31 देशों के नागरिकों के लिए विस्तार किया गया है।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned