पुलिस फायरिंग के लिए सीएम जिम्मेदार : दिनकरण

घायलों व पीडि़त परिवार से मिले

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 24 May 2018, 08:58 PM IST

अम्मा मक्कल मुनेत्र कषगम के संस्थापक टीटीवी दिनकरण ने मृतक परिवारों को सांत्वना दी और 3-3 लाख रुपए की मदद दी, उन्होंने कहा कि घायलों ने बताया कि पुलिस ने उनको बर्बरता से पीटा है। तुत्तुकुड़ी कलक्टर व एसपी ने फायरिंग का आदेश देकर बहुत बड़ी गलती की है,अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए

तुत्तुकुड़ी. अम्मा मक्कल मुनेत्र कषगम के संस्थापक टीटीवी दिनकरण ने गुरुवार को तुत्तुकुड़ी पुलिस फायरिंग के लिए मुख्यमंत्री ईके पलनीस्वामी को जिम्मेदार ठहराया। वे गाडिय़ों के काफिले के साथ यहां पहुंचे। उन्होंने मृतक परिवारों को सांत्वना दी और 3-3 लाख रुपए की मदद दी। फिर वे तुत्तुकुड़ी सरकारी अस्पताल गए और घायलों की कुशलक्षेम पूछी।
फिर बाहर पत्रकारों से वार्ता में उन्होंने कहा कि घायलों ने बताया कि पुलिस ने उनको बर्बरता से पीटा है। तुत्तुकुड़ी कलक्टर व एसपी ने फायरिंग का आदेश देकर बहुत बड़ी गलती की है। उनकी बदली कर देना ही काफी नहीं है। इन अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

 

पलनीस्वामी का यह कहना कि असामाजिक तत्वों का आंदोलन में शामिल होकर उपद्रव करना गले नहीं उतरता है, इस पूरे प्रकरण से साफ है कि सरकारी मशीनरी और खुफिया तंत्र पूरी तरह फेल रहा है,उनका कहना था कि मुख्यमंत्री के अधीन ही गृह विभाग है और शूटिंग से पहले उनकी अनुमति अवश्य ली गई होगी
उन्होंने आरोप लगाया कि फायरिंग के लिए सीएम जिम्मेदार है और उनको इस्तीफा देना चाहिए। इससे जुड़े एक सवाल पर उनका कहना था कि मुख्यमंत्री के अधीन ही गृह विभाग है और शूटिंग से पहले उनकी अनुमति अवश्य ली गई होगी। अगर वे सही में मुख्यमंत्री हैं तो उनको तुत्तुकुड़ी की प्रभावित जनता से मिलना चाहिए। पलनीस्वामी का यह कहना कि असामाजिक तत्वों का आंदोलन में शामिल होकर उपद्रव करना गले नहीं उतरता है। इस पूरे प्रकरण से साफ है कि सरकारी मशीनरी और खुफिया तंत्र पूरी तरह फेल रहा है।

Arvind Mohan Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned