लाकडाउन के बाद सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के साथ सीएमआरएल चलाएगी ट्रेन

-बिना मास्क पहने यात्री नहीं कर सकेंगे स्टेशन में प्रवेश

-होगी सभी यात्रियों की होगी स्क्रीनिंग

By: shivali agrawal

Published: 10 May 2020, 08:28 PM IST

चेन्नई. सीएमआरएल की आपरेशनल योजना के अनुसार सोशल डिस्टेंसिंग की पालना सुनिश्चित करने के साथ ट्रेनें चलाई जाएंगी। स्टेशन में केवल उन्हीं यात्रियों को आने की अनुमति होगी जिन्होंने मास्क पहना होगा। कम यात्रियों के साथ कम सेवाएं होंगी संचालित। यात्रियों को हैंड सेनेटाइजर दिया जाएगा। सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग होगी। चेन्नई मेट्रो रेल सेवेन सीटर पर केवल एक यात्री को बैठने की अनुमति देगा। साथ ही अन्य सीटों पर एक यात्री के बैठने की अनुमति होगी। एक बार में केवल चार लोग एस्केलेर का उपयोग कर पाएंगे। यात्रियों को गाइड करने के लिए क्राउड कंट्रोल स्टाफ होगा। केवल ट्रेवल कार्ड्स एवं प्लास्टिक टिकट की अनुमति होगी। पीक आवर में 10 मिनट एवं नान पीक आवर में 15 मिनट पर ट्रेन का परिचालन किया जाएगा। सभी स्टेशनों को मानक आपरेटिंग प्रक्रिया जारी की जाएगी एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा।

मेट्रो रेल परियोजनाओं में विलंब होने की संभावना

अधिकारियों के अनुसार फेज 1 एवं फेज 2 में चल रही मेट्रो रेल परियोजनाओं में विलंब होने की संभावना है। पहले चरण के विस्तार में ओल्ड वाशरमैनपेट से विमको नगर तक शामिल है। इसके जून में शुरू होने की उम्मीद थी। लाकडाउन के कारण अब इसमें देरी हो सकती है। नार्थ चेन्नई लाइन में 70 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। 52 किलोमीटर के फेज 2 लाइन (माधावरम से तरमणी) के टनलिंग वर्क की निविदा जमा करने की तिथि बढ़ा दी गई है। सीएमआरएल ने यह भी स्पष्ट किया कि उसका कोई भी प्रवासी मजदूर राज्य छोड़कर नहीं गया है। उसके करीब 3150 वर्कर अभी भी यहां हैं। सीएमआरएल ने यात्रियों से यह भी आग्रह किया है कि पहले जो यात्री ट्रेन में उन्हें उतरने देंगे फिर वे ट्रेन में सवार होंगे। सोशल डिस्टेंसिंग संकेतक को चिन्हित किया जाएगा।

Coronavirus Outbreak
Show More
shivali agrawal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned