scriptCoconut export in doldrums due to high freight rates | कंटेनरों की भारी कमी और बढ़ते माल भाड़े ने रोका नारियल का निर्यात नारियल निर्यात | Patrika News

कंटेनरों की भारी कमी और बढ़ते माल भाड़े ने रोका नारियल का निर्यात नारियल निर्यात

नारियल निर्यात मुख्य रूप से खाड़ी देशों और यूरोपीय देशों में

चेन्नई

Published: June 21, 2022 04:06:17 am

कोयंबत्तूर. कंटेनरों की भारी कमी और बढ़ते माल भाड़े ने राज्य की नारियल राजधानी पोलाची से नारियल निर्यातकों को निराशा में डाल दिया है।
नारियल निर्यात मुख्य रूप से खाड़ी देशों और यूरोपीय देशों में होता है लेकिन माल ढुलाई शुल्क और कंटेनरों के लिए लंबी प्रतीक्षा अवधि के कारण भारी गिरावट देखी गई है। दुबई के लिए 20 फीट सूखे कंटेनर (डीसी) की शिपमेंट, जिसकी कीमत आमतौर पर छह महीने पहले 80,000 रुपए थी, अब बढ़कर 3 लाख रुपए हो गई है। इसी तरह यूके में फेलिक्सस्टो पोर्ट के लिए एक कंटेनर 2.5 लाख रुपए से बढ़कर 7.5 लाख रुपए हो गया है।
पोलाची में सुषमा एक्सपोर्ट्स के एम आनंदराज ने कहा, कंटेनर की कमी निर्यातकों के लिए एक गंभीर मुद्दा बनता जा रहा है। जब तक सरकार हस्तक्षेप नहीं करती, तब तक सामान्य स्थिति में लौटने की कोई संभावना नहीं है। विश्व स्तर पर, 'पोल्लाची नारियल' अन्य आयातक देशों की तुलना में उनके लंबे शेल्फ जीवन और बेहतर गुणवत्ता के लिए पसंद किए जाते हैं। भले ही श्रीलंका, बांग्लादेश, फिलीपींस और इंडोनेशिया जैसे अन्य देशों से नारियल का व्यापक रूप से निर्यात किया जाता है, लेकिन पोलाची के नारियल के लिए कोई चुनौती नहीं हैं, जो स्वाद में अद्वितीय हैं।
घरेलू बाजार में भी कीमतों में भारी गिरावट
निर्यात में तेज गिरावट के कारण नारियल का ठहराव हुआ है जिसके परिणामस्वरूप घरेलू बाजार में भी कीमतों में भारी गिरावट आई है। एक नारियल विक्रेता ने कहा, वह प्रति सप्ताह 40 फीट के चार सूखे कंटेनर (डीसी) भेजते थे और प्रत्येक में 50,000 से 55,000 नारियल की क्षमता होती है, जो 28 टन से ऊपर आता है लेकिन अब उन्होंने व्यापार में भारी नुकसान के बाद निर्यात व्यापार छोड़ दिया।
Coconut export in doldrums due to high freight rates
Coconut export in doldrums due to high freight rates

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'स्मोक वार्निंग' के कारण मालदीव जा रही 'गो फर्स्ट' की फ्लाइट की हुई कोयंबटूर में इमरजेंसी लैंडिंगHimachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफामाकपा विधायक ने दिया विवादित बयान, जम्मू-कश्मीर को बताया 'भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर'गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो किसानों का तीन लाख तक का कर्ज होगा माफBJP का महागठबंधन पर बड़ा हमला, सांबित पात्रा बोले- नीतीश-तेजस्वी के साथ आते ही बिहार में जंगलराज शुरूबिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.