हर जगह जुट रही है भीड़, बढ़ रहा है संक्रमण

शत-प्रतिशत गतिविधयां शुरू हो चुकी हैं और मेगामाल भी खोल दिए गए हैं और सरकारी और गैर सरकारी सभी संस्थानों में 100 प्रतिशत लोग काम पर लौट चुके हैं। इसके चलते महानगर के सभी प्रमुख मार्ग जाम का शिकार हो चुके हैं।

By: Dhannalal Sharma

Published: 30 Sep 2020, 09:37 AM IST

चेन्नई. महानगर में कोरोना संक्रमितों की संख्या में फिर बढ़ोतरी होने लगी है। सड़कों पर बढ़ता ट्रेफिक और जगह जगह उमड़ती भीड़ देखकर तो ऐसा प्रतीत होता है जैसे महानगर वासी कोरोना के प्रति अब बिल्कुल बेपरवाह हो गए हैं। और तो और राजनीतिक पार्टियों के सदस्य भी इस कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के प्रति बिल्कुल गंभीर नहीं हैं।
बतादें कि महानगर में बीते कुछ दिनों से करोना संक्रमितों की संख्या 1000 से बढ़कर 1283 तक पहुंच गई थीं। बाजार पूरी तरह खोल दिया गया है। यहां तक कि करीब पांच माह से बंद पड़े कोयमबेडु सब्जी मार्केट में भी हलचल शुरू हो गई है। शत-प्रतिशत गतिविधयां शुरू हो चुकी हैं और मेगामाल भी खोल दिए गए हैं और सरकारी और गैर सरकारी सभी संस्थानों में 100 प्रतिशत लोग काम पर लौट चुके हैं। इसके चलते महानगर के सभी प्रमुख मार्ग जाम का शिकार हो चुके हैं। इसके चलते सरकारी गाइडलाइन का जरा भी पालन नहीं हो पा रहा है जिससे संक्रमितों का आंकड़ा जोर पकडऩे लगा है।
जांच के प्रति उदासीन ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन
अन्नानगर और कोडम्बाक्कम जोन में कोरोना संक्रमित लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन सरकार और ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन संक्रमण को रोकने के प्रति संजीदगी नहीं दिखा रहे हैं। आलम यह है पिछले सप्ताह का 1000 से कम का आंकड़ा बढ़कर सोमवार को 1283 तक पहुंच गया।

Dhannalal Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned