आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में हो रही वृद्धि को सरकार रोकें: स्टालिन

DMK अध्यक्ष एमके स्टालिन ने बुधवार को राज्य सरकार से सब्जी और किराना समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में हो रही अनावश्यक वृद्धि पर रोक लगाने का आग्रह किया।

By: shivali agrawal

Published: 09 Apr 2020, 07:43 PM IST

चेन्नई. डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने बुधवार को राज्य सरकार से सब्जी और किराना समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में हो रही अनावश्यक वृद्धि पर रोक लगाने का आग्रह किया। यहां जारी एक विज्ञप्ति में उन्होंने कहा राज्य की जनता को वर्तमान की स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन के महत्व के बारे में पता चल गया है और सभी अपने घरों में बंद हैं। उन लोगों के लिए खाद्य सामग्री की कमी ना हो यह सरकार को सुनश्चित करना चाहिए। एक तरफ मजदूर वर्ग के लोगों को पैसों की वजह से संकट का सामना करना पड़ रहा है वहीं दूसरी ओर आवश्यक खाद्य सामग्री के दामों में वृद्धि हो रही है। दाल की कीमतों में 30 रूपए तक की वृद्धि कर दी गई है, जबकि लहसुन और मिर्ची के दाम 100 रूपए पहुंच गए हैं। इसी प्रकार से सब्जियोंं के दामों में भी काफी ज्यादा वृद्धि कर दी गई है। यह वृद्धि जमाखोरी के लिए मार्ग प्रशस्त करेगी और मूल्य में और ज्यादा वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि दलालों की वजह से किसानों को उनके सामानों का सही दाम नहीं मिल पा रहा है। इसके अलावा उनको पर्याप्त मात्रा में बीज और उर्वरक नहीं मिल रहे हैं। उच्च दरों की वजह से छोटे व्यापारी सामान नहीं खरीद पा रहे हैं। सरकार को उन लोगों को रोकना चाहिए जो स्थिति का लाभ उठा रहे हैंं और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाले वाहनों का मुफ्त प्रवाह सुनिश्चित कराना चाहिए। पिछले 15 दिनों से घर पर बैठे मजदूरों की समस्याओं की ओर इशारा करते हुए स्टालिन ने केंद्र और राज्य सरकार से पर्याप्त संख्या में उनकी मदद करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा राशन कार्ड धारकों में एक हजार का मदद दिया जा रहा है, जो कि काफी नहीं है। पिछले 15 दिनों से काम बंद कर अपने घरों में रह रहे मजदूरोंं की अतिरिक्त मदद भी करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने में लोगों की भूमिका महत्वपूर्ण है और भूख की वजह से होने वाली मौतों को रोकने के लिए सरकार की भूमिका आवश्यक है। इसलिए सरकार को अपनी भूमिका से पीछे नहीं हटना चाहिए। उन्होंंने कहा कि राज्य सरकार को दिल्ली की तरह मरीजों का परीक्षण करने के लिए फास्ट स्क्रीनिंग सुविधा अपनानी चाहिए। इससे पहले स्टालिन ने सैदापेट के वीवी कोविल स्ट्रीट, वीएस मुदली स्ट्रीट और सुब्रमणियम मंदिर स्ट्रीट बाजार रोड में जरूरतमंदों में सहायता प्रदान की। उन्होंने इलाके में स्थित कुछ किराना और दूध की दुकानों पर जाकर सामानों की उपलब्धता और सही समय पर सामानों की आपूर्ति समेत अन्य चीजों के बारे में पूछताछ की। उन्होंने जनता से सामान खरीदारी के लिए बाहर निकलने पर सुरक्षात्मक उपायों का पालन करने और सामाजिक दूरी बनाए रखने का आग्रह किया। लॉकडाउन की वजह से प्रभावित 500 से अधिक दिव्यांग परिवारों में खाद्य सामग्री का वितरण किया। सामान खरीदने बाहर निकले लोगों को स्टालिन ने मास्क भी दिया।

Corona virus corona virus in india
Show More
shivali agrawal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned