किसी गली में तीन से अधिक पॉजिटिव मिले तो बैनर, छह से अधिक पर एस-आकार का बैरिकेड , दस से अधिक पर सड़क पर पूरी तरह से रोक

किसी गली में तीन से अधिक पॉजिटिव मिले तो बैनर, छह से अधिक आने पर एस-आकार का बैरिकेड और दस से अधिक पर सड़क पर पूरी तरह से रोक
वार्ड-स्तरीय टीमों का गठन करने का निर्देश

By: Ashok Rajpurohit

Updated: 17 Apr 2021, 12:10 AM IST

चेन्नई. कोविड-19 महामारी की पहली लहर के दौरान पेश की गई कई रणनीतियों को फिर से शुरू करने के बाद ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन ने जोनल अधिकारियों को सुरक्षा प्रोटोकॉल की निगरानी और कार्यान्वयन के लिए वार्ड-स्तरीय टीमों का गठन करने का निर्देश दिया है। इन टीमों का गठन अक्टूबर में किया गया था और मामलों की संख्या में कमी आने के बाद ये बिना काम की रह गई थी। गुरुवार को निगम आयुक्त जी प्रकाश ने उत्तर और मध्य क्षेत्रों में सेनेटरी इंस्पेक्टरों, सहायक और कनिष्ठ अभियंताओं, सेनेटरी अधिकारियों, कन्सर्वेंसी इंस्पेक्टरों और अन्य लोगों के साथ बैठक की। बैठक के दौरान आयुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे कुछ महीने पहले गठित वार्ड-स्तरीय टीमों को तुरंत गठित करें। निगम अधिकारियों के अलावा टीम में स्थानीय पुलिस स्टेशन के एक पुलिस अधिकारी शामिल होंगे। अधिकारी ने कहा कि टीमों में संबंधित डिवीजनों के सहायक इंजीनियर, जूनियर इंजीनियर, सेनेटरी इंस्पेक्टर, कन्सर्वेंसी इंस्पेक्टर और टैक्स कलेक्टर शामिल होंगे। निरीक्षण दल निर्माण स्थलों, कार्यालयों, बाजारों, दुकानों के साथ प्रमुख सड़कों, धार्मिक स्थलों, विवाह मंडलों और भीड़-भाड़ वाले अन्य स्थलों पर मास्क और सोशल डिस्टेंस गड़बड़ी के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। दल रोकथाम के उपायों के सूक्ष्म-स्तरीय कार्यान्वयन की देखरेख करेंगे। वर्तमान में, क्षेत्र के अधिकारियों को तीन से अधिक मामले सामने आने पर सड़कों पर बैनर लगाने और छह से अधिक मामलों के आने पर एस-आकार के बैरिकेड बनाने के निर्देश दिए गए हैं। 10 से अधिक मामलों वाली सड़कों को पूरी तरह से रोक दिया जाएगा।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned