scriptcovid-19 | अस्पताल में भर्ती हल्के और मध्यम कोविड -19 रोगियों के इलाज में इंडोमेथेसिन ड्रग उपयोगी साबित, आईआईटी मद्रास द्वारा डिज़ाइन किया गया परीक्षण | Patrika News

अस्पताल में भर्ती हल्के और मध्यम कोविड -19 रोगियों के इलाज में इंडोमेथेसिन ड्रग उपयोगी साबित, आईआईटी मद्रास द्वारा डिज़ाइन किया गया परीक्षण

अस्पताल में भर्ती हल्के और मध्यम कोविड -19 रोगियों के इलाज में इंडोमेथेसिन ड्रग उपयोगी साबित
-आईआईटी मद्रास द्वारा डिज़ाइन किया गया परीक्षण

चेन्नई

Published: April 29, 2022 11:37:17 pm

चेन्नई. आईआईटी मद्रास द्वारा डिज़ाइन किया गया परीक्षण अस्पताल में भर्ती हल्के और मध्यम कोविड -19 रोगियों के इलाज में इंडोमेथेसिन ड्रग उपयोगी साबित हुआ है। इंडोमेथेसिन एक सस्ती दवा है। नेचर साइंटिफिक रिपोर्ट्स में प्रकाशित एक हालिया जर्नल पेपर ने इंडोमिथैसिन की प्रभावकारिता को दिखाया है। पनीमलार मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट में किए गए अध्ययन का नेतृत्व आईआईटी मद्रास में एक सहायक संकाय और एमआईओटी अस्पतालों में निदेशक नेफ्रोलॉजी डॉ राजन रविचंद्रन ने किया था। इस अध्ययन की अवधारणा और समन्वय आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर प्रो. आर. कृष्ण कुमार द्वारा किया गया। पूरे अध्ययन को क्रिस गोपालकृष्णन द्वारा वित्त पोषित किया गया जो आईआईटी मद्रास के पूर्व छात्र है।
डॉ. राजन रविचंद्रन ने कहा, वैज्ञानिक साक्ष्य कोरोनावायरस के खिलाफ एंटी-वायरल कार्रवाई को दृढ़ता से दर्शाता है। इंडोमिथैसिन एक सुरक्षित और अच्छी तरह से समझी जाने वाली दवा है। मैं पिछले तीस सालों से इसे अपने पेशे में इस्तेमाल कर रहा हूं।
शोध के निष्कर्षों पर प्रकाश डालते हुए, आईआईटी मद्रास के संस्थान के प्रोफेसर आर कृष्ण कुमार ने कहा, कुल 210 भर्ती मरीजों में से 107 को इलाज पैरासिटामोल और उपचार की मानक देखभाल के साथ किया गया था। 103 रोगियों को उपचार की मानक देखभाल के साथ इंडोमिथैसिन दिया गया। इंडोमिथैसिन प्राप्त करने वाले 103 रोगियों में से किसी ने भी ऑक्सीजन डिसेचुरेशन विकसित नहीं किया।
किसी और लहर की स्थिति में निष्कर्ष उपयोगी होंगे
आईआईटी मद्रास के निदेशक, प्रो. वी. कामकोटी ने कहा, मैं इंडोमिथैसिन परीक्षण के सफल प्रकाशन के लिए डॉ. राजन रविचंद्रन, प्रो. आर. कृष्ण कुमार और टीम को बधाई देता हूं। मुझे उम्मीद है कि कोविड -19 की किसी और लहर की स्थिति में निष्कर्ष उपयोगी होंगे।
कोविड उपचार प्रोटोकॉल में इंडोमिथैसिन को शामिल करेगा
डॉ. राजन रविचंद्रन ने कहा, इंडोमेथेसिन सभी प्रकारों के साथ काम करता है। हमने दो परीक्षण किए थे, एक पहली लहर में और दूसरा दूसरी लहर में। परिणाम वही थे। मुझे पूरी उम्मीद है कि आईसीएमआर इस अध्ययन पर ध्यान देगा और कोविड उपचार प्रोटोकॉल में इंडोमिथैसिन को शामिल करेगा।
covid-19
covid-19

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Presidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे गोवा से मुंबई एयरपोर्ट पहुंचेMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनKangana Ranaut ने Uddhav Thackeray पर कसा तंज, कहा- 'हनुमान चालीसा बैन किया था, इन्हें तो शिव भी नहीं बचा पाएंगे'उदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.