कृषि बिल के खिलाफ चेन्नई में सीपीएम कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए किसान विधेयक बिल को किसान का दुश्मन बताया।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 21 Sep 2020, 04:43 PM IST

चेन्नई.

सदन से पास हुए कृषि विधेयक का चेन्नई में भी विरोध किया जा रहा है। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीएम) के कार्यकर्ताओं ने किसान अध्यादेश के विरोध में सोमवार को चेन्नई के पेरिस कॉर्नर में धरना प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए किसान विधेयक बिल को किसान का दुश्मन बताया।

कार्यकर्ता पेरिस कॉर्नर से तमिलनाडु विधानसभा की ओर बढ़ रहे थे लेकिन भारी संख्या में तैनात पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान कार्यकर्ता और पुलिस के बीच धक्का मुक्की भी हुई। वहीं प्रदर्शन के कारण चौराहे पर जाम लगा रहा। इसके कारण कुछ देर के लिए आवागमन बाधित रहा।

सीपीएम के जिला सचिव जी. सेल्वा ने कहा कि कृषि बिल किसानों के हित के विरोध में है और राज्य के मुख्यमंत्री पलनीस्वामी को बिल का समर्थन वापस लेना चाहिए। उन्होंने बिल को किसान का दुश्मन बताया। जी. सेल्वा के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारियां दी। जाम हटने के बाद यातायात शुरू हुआ।

दरअसल इसकी वजह इस विधेयक का वो प्रावधान है, जिसमें किसानों को अपनी फसल कहीं पर भी बेचने की छूट दी गई है। इसका असर क्या होगा कि अभी तक जिस तरह से किसान मंडियों में अपनी फसल बेचते थे, वैसे अब वो देश के किसी भी हिस्से में अपनी फसल बेच सकेंगे। हालांकि इससे मंडियों की अहमियत घटेगी।

Show More
PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned