देशी भाषाओं को बढ़ावा देने की सराहना

देशी भाषाओं को बढ़ावा देने की सराहना
सीटीटीई महिला महाविद्यालय में पैनल चर्चा का आयोजन

By: Ashok Rajpurohit

Updated: 23 Mar 2021, 06:14 PM IST

चेन्नई. राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर पेरम्बुर सेम्बियम स्थित सीटीटीई महिला महाविद्यालय में पैनल चर्चा का आयोजन किया। इस आयोजन को आईक्यूएसी और कॉलेज के छात्र परिषद द्वारा आयोजित किया गया। केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा प्रस्तावित राष्ट्रीय शिक्षा नीति एक नए शैक्षणिक भविष्य की मांगों को पूरा करने के लिए है।
इस आयोजन का उद्देश्य छात्रों को परिवर्तनकारी बदलाव से अवगत कराना था और इस प्रकार उन्हें इसके सफल कार्यान्वयन में सक्रिय भागीदार बनाना था। मानविकी, विज्ञान, मनोविज्ञान, वाणिज्य और प्रबंधन जैसे विभिन्न विषयों के 13 छात्र पैनलिस्ट्स ने अपने दृष्टिकोण प्रस्तुत किए।
छात्र पैनलिस्ट ने अपनी प्रस्तुतियों में शिक्षा नीति के प्रस्तावित बदलावों का स्वागत किया। जैसे कि देशी भाषाओं को बढ़ावा देना और व्यावसायिक कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना। छात्रों के दृष्टिकोण से अंतःविषय अध्ययन और कौशल प्रशिक्षण के साथ-साथ मूल्य-आधारित समग्र पाठ्यक्रम के साथ एकीकृत पाठ्यक्रम संरचना ने व्यापक सीखने के अवसरों की पेशकश की। हालाँकि इसके प्रभावी कार्यान्वयन के लिए आवश्यक उपलब्ध बुनियादी सुविधाओं को बढ़ाने पर जोर दिया।
संचालक अन्ना यूनिवर्सिटी के डॉ. केएन शोबा ने संस्था के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने छात्र समुदाय से सहयोग, आलोचनात्मक सोच, रचनात्मक सोच और संचार की इक्कीसवीं सदी के कौशल से खुद को लैस करने का आग्रह किया।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned