एआईएडीएमके और भाजपा को हराने के लिए एमडीएमके ने डीएमके से मिलाया हाथ

एआईएडीएमके और भाजपा को हराने के लिए एमडीएमके ने डीएमके से मिलाया हाथ

PURUSHOTTAM REDDY | Publish: Sep, 16 2018 08:30:11 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

इससे पहले एक प्रस्ताव पारित कर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपाई और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के निधन पर शोक व्यक्त किया गया।

इरोड. एमडीएमके ने शनिवार को कहा कि राज्य की एआईएडीएमके और केंद्र की भाजपा सरकार को हराने के लिए डीएमके और अन्य पार्टियों से गठबंधन करने का निर्णय लिया है।

अण्णा और पेरियार की स्मृति और एमडीएमके प्रमुख वाइको के राजनीतिक में ५० साल पूरे होने पर आयोजित राज्य स्तरीय सम्मेलन में इस निर्णय सहित ३३ अन्य प्रस्ताव भी पारित किए गए। इस दौरान पारित एक अन्य प्रस्ताव में एमडीएमके ने स्थानीय निकाय चुनाव में हो रही देरी पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इस बारे में जल्द से जल्द कोई घोषणा की जानी चाहिए।

एक अन्य प्रस्ताव में कर्नाटक सरकार द्वारा कावेरी नदी के चारों ओर बांध निर्माण के प्रस्ताव का विरोध करते हुए एमडीएमके ने कहा कि अगर केंद्र सरकार इस निर्माण को अपनी स्वीकृति प्रदान करती है तो कावेरी का पानी तमिलनाडु तक पानी नहीं पहुंच पाएगा। साथ ही पार्टी ने इस दौरान केंद्र द्वारा संचालित विद्यालयों में पिछडे वर्ग के विद्यार्थियों को २७ प्रतिशत आरक्षण शुरू करने की भी मांग की। इससे पहले एक प्रस्ताव पारित कर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपाई और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के निधन पर शोक व्यक्त किया गया।

Ad Block is Banned