मैनुफैक्चरिंग सेक्टर के डिजिटलाइजेशन से मिलेंगे नए अवसर

ड़ास्साल्ट सिस्टम्स की ओर से वैश्विक वृहद रुझान पर क्षेत्रीय अनुकूलन को लेकर सम्मेलन का आयोजन किया गया

By: Ritesh Ranjan

Published: 07 Jun 2018, 03:20 PM IST

चेन्नई. ड़ास्साल्ट सिस्टम्स की ओर से वैश्विक वृहद रुझान पर क्षेत्रीय अनुकूलन को लेकर सम्मेलन का आयोजन किया गया। मैनुफैक्चरिंग इन द एज आफ एक्सपीरिएंश नाम के इस सम्मेलन में 3डी एक्सपीरिएंश ट्वीन के जरिए वर्चुअल तथा रियल टाइम मैनुफैक्चरिंग की समकालिकता पर ध्यान केंद्रित किया गया। सम्मेलन का यह दूसरा संस्करण था। सम्मेलन में राज्य के परिवहन, औद्योगिक यंत्र, इंजीनियरिंग तथा एयरोस्पेस तथा रक्षा कंपनियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। कंपनी (इंडिया) के प्रबंध निदेशक सैमसन खाओवु ने कहा कि इस सम्मेलन का उद्देश्य मैनुफैक्चरिंग हब तक पहुंचना तथा 3डी वैल्यू को प्लेटफार्म पर प्रदर्शित करना है। उन्होंने कहा कि मैनुफैक्चरिंग सेक्टर के डिजिटलाइजेशन से नए अवसर सामने आएंगे। 3डी एक्सपीरिएंस ट्वीन समय को कम करने के साथ ही लागत को भी कम करेगा। 3डी एक्सपीरिएंस ट्वीन निर्माताओं को पूरे कारखाने के माडल को डिजाइन एवं विजुएलाइज करने में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि इससे मेक इन इंडिया पहल में भी सहयोग होगा।

Ritesh Ranjan Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned