पुलिस कस्टडी में मौत मामले को सीबीआई को सौंप कर सरकार अपनी जिम्मेदारी को न भुले: कमल हासन

कमल हासन ने सोमवार को मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी से तुत्तुकुड़ी के सातानकुलम पुलिस कस्टडी में पिता-पुत्र की हुई संदिग्ध मौत मामले की जांच को सीबीआई को सौंप कर अपनी जिम्मेदारी से नहीं भागने का आग्रह किया।

By: Vishal Kesharwani

Published: 29 Jun 2020, 06:51 PM IST


-मुख्यमंत्री से किया आग्रह
चेन्नई. मक्कल नीदि मय्यम (एमएनएम) के संस्थापक अध्यक्ष अभिनेता कमल हासन ने सोमवार को मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी से तुत्तुकुड़ी के सातानकुलम पुलिस कस्टडी में पिता-पुत्र की हुई संदिग्ध मौत मामले की जांच को सीबीआई को सौंप कर अपनी जिम्मेदारी से नहीं भागने का आग्रह किया। ट्वीट कर हासन ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर जांच एजेंसी को मामला सौंप देना चाहिए। कमल हासन की यह प्रतिक्रिया उस वक्त सामने आई है जब रविवार को सेलम जिले में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने मामले को सीबीआई को सौंपने की घोषणा की थी। हासन ने कहा पहले से सीबीआई को सौंपे गए तुत्तुकुड़ी पुलिस फायरिंग और गुटखा भ्रष्टाचार समेत कई अन्य मामले लंबित है।

 

सरकार उन मामलों को लोगों के भुलने का इंतजार ना करें, बल्कि न्याय की रक्षा करने की ओर सख्त कदम उठाए। न्याय में किसी भी प्रकार की देरी अन्याय होगी। इससे पहले हासन ने मामले में पुलिस और डॉक्टर समेत लिप्त सभी अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार और मुख्यमंत्री, जो आंख बंद कर तुत्तुकुड़ी फायरिंग की तरह इस मामले में भी पुलिस का सहयोग कर रहे हैं, मामले के पहले आरोपी हैं। कस्टडी में हुए मौत मामले में दो पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर सरकार आगे कार्रवाई करने को तैयार नहीं दिख रही है। लेकिन न्याय दिलाने के लिए मामले में लिप्त सभी के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा पुलिस अधिकारियों की कार्रवाई पर आंख बंद कर भरोषा करने की वजह से ही दो बेगुनाह लोगों की जान चली गई है। इस मामले को लेकर गुस्साए लोग सरकार को जरूर सबक सिखाएंगे।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned