प्रत्येक विद्यार्थी लगाए २ पेड़...

प्रत्येक विद्यार्थी लगाए २ पेड़...

P S Kumar Vijayaraghwan | Publish: Sep, 11 2018 09:13:12 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India


- राजस्थान पत्रिका और एक्सनोरा इंटरनेशनल का हरित प्रदेश अभियान
- श्री वेंकटेश्वरा आट्र्स एण्ड साइंस कॉलेज में पौधरोपण


चेन्नई. वर्तमान में घटते पेड़ों की वजह से प्रदूषित हो रहे वातावरण को देखते हुए पेड़ लगाना अवश्यम्भावी कार्य हो गया है। अगर मनुष्य पेड़-पौधे लगाने में चूक करेगा तो एक दिन बहुत पछताएगा।
पौधरोपण व पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से राजस्थान पत्रिका व एक्सनोरा इंटरनेशनल के हरित प्रदेश अभियान के तहत मंगलवार को गौरीवाक्कम स्थित प्रिंस श्री वेंकटेश्वरा आट्र्स एण्ड साइंस कॉलेज में पौधरोपण किया गया। सौ विद्यार्थियों में पौधों का वितरण भी किया गया।
इस मौके पर एक्सनोरा इंटरनेशनल उत्तर चेन्नई के सचिव जे. फतेहराज जैन ने पर्यावरण को हो रही हानि तथा इससे निपटने के उपायों की चर्चा की। उन्होंने कहा पर्यावरण की रक्षा करना हमारा कर्तव्य है। पहले के समय में पक्षियों के आवाज से किसी भी अनहोनी का पता चल जाता था। लेकिन अब जैसे-जैसे पेड़ कट रहे हैं तो पक्षियों की संख्या में भी कमी होने लगी है।
प्रिंस श्री वेंकटेश्वरा आट्र्स एंड साइंस कॉलेज की प्रिंसिपल एम. उमा ने राजस्थान पत्रिका और एक्सनोरा इंटरनेशनल के इस अभियान की सराहना की कि इससे विद्यार्थियों में नई जागरूकता आई है। उन्होंने प्रत्येक विद्यार्थी से कम से कम दो पेड़ लगाने और संरक्षण करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को इस तरह की पहल में आगे आकर अपनी मातृभूमि की हरियाली की रक्षा करनी चाहिए।
एक्सनोरा के अध्यक्ष आर. गोविन्दराज ने कहा कि जीवन बचाना है तो पर्यावरण बचाना होगा। इसके अलावा वी. विष्णु कार्तिक, ए.एम. मालती, टी. विश्वनाथ सहित अन्य लोगों ने भी अपने विचार रखे। इस मौके पर सभी विद्यार्थियों ने पर्यावरण की रक्षा करने की प्रतिज्ञा की। पर्यावरण पर कई विद्यार्थियों ने चित्रकारी के जरिए अपनी कला का प्रदर्शन किया। विजेता विद्यार्थियों को प्रमाणपत्र देकर सम्मानित भी किया गया।


पर्यावरण की रक्षा करने के लिए सबसे पहले प्लास्टिक बैग के इस्तेमाल को बंद कर अन्य बैगों का इस्तेमाल शुरू करना होगा।
- आर.के. सरगुणा प्रिया, कॉलेज छात्रा


मकानों और सड़कों के निर्माण से अच्छे जिंदगी की वारंटी तो हो सकती है लेकिन पौधरोपण से अच्छे जिंदगी की गारंटी होती है।
-चेलसा मारिया डीबेल, छात्रा


अगर लोग वातावरण को दूषित न करें तो इसे शुद्ध करने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। रोकथाम इलाज से बेहतर होता है।
-पुष्पदीपा एस, छात्रा


जल का संरक्षण करना जीवन का संरक्षण करने के बराबर होता है। लोग जल का संरक्षण कर अपने जीवन को सुरक्षित रख सकते हैं।
- एस. जलिला लेशी


प्रदूषित हो रहा जल ही तेजी से फैल रही बीमारियों का मुख्य कारण है। सुरक्षित जीवन के लिए जल प्रदूषण रोकना सबसे जरूरी है।
- सेलिन मर्लिन, छात्रा

Ad Block is Banned