प्रदेश में किसानों के अनुकूल माहौल : उपमुख्यमंत्री

Mukesh Sharma

Publish: Sep, 09 2017 09:34:00 (IST)

Chennai, Tamil Nadu, India
प्रदेश में किसानों के अनुकूल माहौल : उपमुख्यमंत्री

सरकार विजन-2023 के तहत किसानों के हितों को देखते हुए योजनाएं तैयार कर रही है। इससे प्रदेश में किसानों के अनुकूल माहौल तैयार हुआ है। इसका लाभ किसान वर्

चेन्नई।सरकार विजन-2023 के तहत किसानों के हितों को देखते हुए योजनाएं तैयार कर रही है। इससे प्रदेश में किसानों के अनुकूल माहौल तैयार हुआ है। इसका लाभ किसान वर्ग को जरूर मिलेगा। उप मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम ने यह बात कही। वे शुक्रवार को चेन्नई ट्रेड सेन्टर में कन्फेडरेशन आफ इंडियन इंडस्ट्री की फूडप्रो एक्सपो प्रदर्शनी के 12वें संस्करण के उद्घाटन के बाद बोल रहे थे। खाद्य प्रसंस्करण तकनीक एवं पैकेजिंग विषय पर आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा प्रदेश में कृषि संबंधी कई गतिविधियां चल रही हैं, ऐसे में खाद्य प्रसंस्करण के लिए मौजूदा तकनीक का अधिकाधिक उपयोग किया जाना चाहिए। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री ने फूडप्रो प्रदर्शनी का ब्रॉशर भी जारी किया। उन्होंने कहा पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता ने हरित क्रांति का सपना देखा था जो अब साकार होने जा रहा है। प्रदेश में कृषक गतिविधियों को लगातार बढ़ावा मिल रहा है।

ओपीएस ने कहा तमिलनाडु कृषि उत्पादों में अग्रणी राज्य है। कुक्कुट उत्पादन में प्रदेश का देश में दूसरा स्थान है। देश में कुल उत्पादन का 17.7 फीसदी योगदान तमिलनाडु का हैं। चालीस फीसदी लोग प्रदेश में कृषि को अपनी आजीविका मानते हैं जो देश में दूसरे नंबर पर है। पन्नीरसेल्वम ने कहा तमिलनाडु में कृषि एवं उद्योग के बीच मजबूत कड़ी है। चाहे खाद्य प्रसंस्करण हो, भंडारण सुविधा हो, एकीकृत बाजार विकास हो या फिर चाहे फसल का नुकसान, सभी एक दूसरे पर निर्भरता लिए हुए हैं। उन्होंने बताया कि फल-सब्जियों आदि की आपूर्ति को सहज बनाए रखने के लिए प्रदेश में 398.75 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई है। अपव्यय को रोकने के लिए तमिलनाडु के छह क्षेत्रों में केले के लिए एकीकृत भंडारण की व्यवस्था की जा रही है। इन क्षेत्रों में ईरोड, कोयम्बत्तूर, तूीकोरिन, तेनी, तिरुचि एवं तिरुवण्णामलै शामिल हैं।

उन्होंने फूडप्रो एक्सपो में 250 कंपनियों द्वारा अपने उत्पाद प्रदर्शित करने की सराहना करते हुए कहा इससे निश्चय ही प्रदेश में जहां कृषि के समर्थन में वातावरण तैयार होगा वहीं किसानों को भी फायदा मिल सकेगा। फूडप्रो के चेयरमैन एवं केविनकेयर के सीएमडी सी.के. रंगनाथन ने बताया कि प्रदर्शनी में तीस प्रोडक्ट भी लांच किए जाएंगे।

कृषि उत्पादन आयुक्त एवं कृषि विभाग के प्रधान सचिव गगनदीपसिंह बेदी ने कहा कृषि संबंधी गतिविधियों के मामले में तमिलनाडु देश में अव्वल हैं। सीआईआई प्रदेश में कृषि सेक्टर को प्राथमिकता दे रहा है। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग ने आम, मिर्च, केला एवं अन्य किस्मों के लिए प्राथमिक प्रसंस्करण केन्द्रों की स्थापना की गई है।

फूडप्रो एक्सपो के को-चेयरमैन एवं ब्लू स्टार लिमिटेड के संयुक्त प्रबंध निदेशक बी. त्यागराजन ने स्वागत भाषण में कहा कृषि क्षेत्र में सकारात्मक विकास के लिए खाद्य प्रसंस्करण नीति जरूरी है।

जापान के महा वाणिज्यदूत सेजी ने कहा कि भारत एवं जापान के बीच खाद्य प्रसंस्करण, तकनीकी, नेटवर्क में लगातार इजाफा हुआ है। भारत में थाईलैण्ड के राजदूत *****िनतोर्न गोंगसाकड़ी ने कहा भारत एवं थाईलैण्ड के बीच मजबूत सांस्कृतिक आदान-प्रदान रहा है। दक्षिण भारत में थाईलैण्ड का भोजन खासा पसंद किया जा रहा है। उन्होंने मौजूदा तकनीक को अपनाते हुए खाद्य अपव्यय को रोकने की मांग की। सीआईआई तमिलनाडु प्रदेश काउंसिल के चेयरमैन पी. रविचन्द्रन ने कहा अगले पांच साल में भारत विश्व में खाद्य उत्पादन एवं निर्माता के क्षेत्र में अग्रणी बनकर उभरेगा।

चेन्नई ट्रेड सेन्टर में फूडप्रो प्रदर्शनी के उद्घाटन के मौके पर ब्रॉशर जारी करते उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned