बंद कमरे में मिला पिता-पुत्र का शव

बंद कमरे में मिला पिता-पुत्र का शव

MAGAN DARMOLA | Updated: 30 Jun 2019, 07:18:16 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

15 साल से अपने मानसिक रोगी पुत्र की देखभाल रहे थे 7० वर्षीय वृद्ध

चेन्नई. महानगर के पॉश इलाके में शनिवार सुबह उस समय सनसनी फैल गई जब वेंकटरत्नम नगर स्थित एक मकान से 7० वर्षीय वृद्ध और उसके मानसिक रोगी पुत्र का शव मिला। दो दिनों से बंद मकान को खोलने पर इसका खुलासा हुआ। उसके बाद पड़ोसियों ने तत्काल सूचना पुलिस को दी। प्रारंभिक जांच व पूछताछ में वृद्ध का शव बिस्तर के नीचे और बेटा का शव बिस्तर पर पड़ा मिला। बताया जा रहा है कि दोनों पिछले १५ साल से एक साथ और अकेले रह रहे थे। पिता अपने मानसिक रोगी पुत्र की देखभाल रहे थे।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि अडयार के वेंकटरत्नम नगर निवासी कालै कण्णन सेवानिवृत्त पोस्टमास्टर थे। करीब १५ साल पहले उनकी पत्नी का निधन हो गया था। दम्पती को एक बेटा वेंकटेश (४०) था जो मानसिक रोगी था। पत्नी के निधन के बाद कालै कण्णन अपने बेटे की देखभाल खुद करते थे। पूछताछ के बाद पुलिस ने बताया कि दोनों पिछले तीन से चार दिन से बाहर नहीं निकले जिससे पड़ोसियों को संदेह हुआ। उनके कमरे से बदबू आ रही थी।

पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा खोलकर अंदर गई तो वहां का नजारा देखकर दंग रह गई। पुत्र बिस्तर पर मृत पड़ा था जबकि पिता कण्णन बिस्तर के नीचे पड़े थे। दोनों को तुरंत अस्पताल भेजा गया जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने बताया कि शवों को रॉयपेट्टा सरकारी अस्पताल में रखा गया है। उनके परिजनों से संपर्क किया जा रहा है ताकि पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार किया जा सके। पुलिस को संदेह है कि पुत्र मानसिक रोगी है और वह पिछले तीन से चार दिनों से बिस्तर से नहीं उठ पाया और वृद्ध पिता उसे उठाने में सक्ष्म नहीं थे। हालांकि पुलिस अलग दृष्टिकोण से मामले की जांच कर रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned