पुलिस व जेल कर्मियों को पीपीई किट उपलब्ध कराने को लेकर कोर्ट में याचिका

पुलिस एवं जेल कर्मियों को पीपीई किट, फेस मास्क, हैण्ड ग्लव्ज व सेनिटाइजर उपलब्ध कराने के लिए तमिलनाडु सरकार को निर्देशित करने को लेकर मद्रास हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई गई है।

By: Ashok Rajpurohit

Published: 26 Jun 2020, 09:56 PM IST

चेन्नई. पुलिस एवं जेल कर्मियों को पीपीई किट, फेस मास्क, हैण्ड ग्लव्ज व सेनिटाइजर उपलब्ध कराने के लिए तमिलनाडु सरकार को निर्देशित करने को लेकर मद्रास हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई गई है। आर. वराकी की जनहित याचिका पर खंडपीठ के न्यायाधीश आर. सुबैया व न्यायाधीश कृष्णन रामास्वामी ने विडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई करते हुए तमिलनाडु सरकार को नोटिस जारी किया। याचिकाकर्ता आर. वराकी ने याचिका में यह भी मांग की कि सरकार इनकी नियमित रूप से कोविड-19 की जांच करे तथा कैदी कोविड-19 के संक्रमितों के संपर्क में न आ सकें ऐसी व्यवस्था हो।
सेनिटाइजर पर्याप्त संख्या में उपलब्ध
जब याचिका सुनवाई के लिए आई तो सरकारी अधिवक्ता वी. जयप्रकाश नारायण ने कहा कि पुलिस एवं जेल कर्मियों के लिए सरकार ने पहले ही इस तरह की सामग्री उपलब्ध करा दी है। उन्होंने कहा कि हरेक के लिए पीपीई किट की जरूरत नहीं है। फेस मास्क, हैण्ड ग्लव्ज व सेनिटाइजर पर्याप्त संख्या में उपलब्ध है। खंडपीठ ने राज्य सरकार को इस बारे में दो सप्ताह में विस्तृत जानकारी मुहैया कराने को कहा। याचिकाकर्ता ने कहा कि पुलिस एवं जेल कर्मी कोविड-10 ड््यूटी में लगातार रात-दिन काम कर रहे हैं। लेकिन संक्रमण से सुरक्षा को लेकर खास उपाय नहीं किए गए हैं। ऐसे हालात में रोज कोविड-19 से संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इससे कैदी भी संक्रमित हो रहे हैं।
19 कैदी संक्रमित
समाचार पत्रों से मालूम हुआ है कि पूझल केन्द्रीय कारागार में 19 कैदी संक्रमित हो चुके हैं। याचिका में कहा कि इनके लिए संक्रमण से बचाव के पुख्ता इंतजाम नहीं किए गए तो इसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं जिसके चलते हजारों लोगों का जीवन प्रभावित हो सकता है।

Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned