तुत्तुकुड़ी फायरिंग व उपद्रव; रिटायर्ड जज अरुणा जगदीशन करेंगी जांच

सरकार ने मद्रास हाईकोर्ट की रिटायर्ड जज अरुणा जगदीशन की अध्यक्षता में न्यायिक जांच आयोग का गठन किया है जो तुत्तुकुड़ी फायरिंग और हिंसा की जांच करेगी।

By: Ritesh Ranjan

Published: 24 May 2018, 04:34 PM IST

चेन्नई. सरकार ने मद्रास हाईकोर्ट की रिटायर्ड जज अरुणा जगदीशन की अध्यक्षता में न्यायिक जांच आयोग का गठन किया है जो तुत्तुकुड़ी फायरिंग और हिंसा की जांच करेगी। पुलिस फायरिंग में मंगलवार को दस जनों की मौत हो गई थी।
मुख्यमंत्री पलनीस्वामी ने हिंसा और फायरिंग के बाद न्यायिक जांच आयोग के गठन की घोषणा की थी। सीएम ने बुधवार को उच्च स्तरीय बैठक करने के बाद रिटायर्ड जज अरुणा जगदीशन को जांच आयोग का अध्यक्ष बनाया।
आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार सरकार ने पूर्व हाईकोर्ट जज अरुणा जगदीशन को निषेधाज्ञा के अमल में होने के बाद प्रदर्शनकारियों द्वारा इसके उल्लंघन की वजह से की गई फायरिंग की जांच करने के लिए नियुक्त किया गया है। बहरहाल, इस आयोग के कार्यकाल और रिपोर्ट पेश करने की अवधि के बारे में कुछ नहीं कहा गया है।
राजनीतिक दलों का प्रदर्शन कल
इस बीच डीएमके और उसकी सहयोगी पार्टियों कांग्रेस, एमडीएमके, माकपा, भाकपा, वीसीके और अन्य दलों ने स्टरलाइट प्लांट और पुलिस फायरिंग के खिलाफ राज्यव्यापी प्रदर्शन की घोषणा की है।
डीएमके और सहयोगी दलों के संयुक्त वक्तव्य में कहा गया है कि २५ मई को सभी दल डीएमके की अगुवाई में सामूहिक रूप से सभी जिलों में प्रदर्शन करेंगे।

Ritesh Ranjan Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned