पूर्व पुलिस आयुक्त एस. जॉर्ज ने तोड़़ी चुप्पी, कहा - मुझे और डीजीपी को बनाया जा रहा निशाना

पूर्व पुलिस आयुक्त एस. जॉर्ज ने तोड़़ी चुप्पी, कहा - मुझे और डीजीपी को बनाया जा रहा निशाना

P.S.Vijayaraghavan | Publish: Sep, 07 2018 07:57:00 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

गुटखा घूसकांड में पुलिस अफसरों पर लगाए आरोप

चेन्नई. पुलिस और प्रशासन को झकझोर देने वाले गुटखा घूसकांड में सीबीआइ जांच शुरू होने के बाद महानगर के पूर्व पुलिस आयुक्त एस. जॉर्ज ने शुक्रवार को चुप्पी तोड़ी। उन्होंने माना कि यह कांड हुआ है। कुछेक पुलिस अधिकारियों के नाम भी लिए और आरोप लगाया कि उनको तथा मौजूदा पुलिस महानिदेशक टी. के. राजेंद्रन को निशाना बनाया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि बुधवार को सीबीआइ ने गुटखा कांड में स्वास्थ्य मंत्री विजय भास्कर और डीजीपी टी. के. राजेंद्रन के अलावा पूर्व महानगर पुलिस आयुक्त एस. जॉर्ज के आवास पर भी छापेमारी की थी। गुटखा घूसखोरी कांड में नाम आने और सीबीआइ कार्रवाई के बाद एस. जॉर्ज मीडिया से मिले और खुद को पाक साफ बताया।

डीजीपी बनने से रोकने की साजिश

पूर्व आइपीएस ने कहा कि जब वे राज्य के डीजीपी बनने वाले थे उस वक्त इस कांड ने तूल पकड़ा। उनको डीजीपी पद नहीं मिले इसलिए सोची समझी साजिश के तहत नाम उछाला गया। उनके अलावा डीजीपी राजेंद्रन को भी निशाना बनाया गया।

घूस दी गई

जॉर्ज ने स्वीकार किया कि गुटखा कांड में भ्रष्टाचार हुआ है। वे यह नहीं कहते कि ऐसा नहीं हुआ है। महानगर में ३०० से ज्यादा थाने हैं क्या इतने थानों में पुलिस आयुक्त के सहयोग से गुटखा बेचा जा सकता है? उनका दावा था कि जब वे आयुक्त थे उस वक्त घूस नहीं दी गई। उन्होंने डीएमके विधायक जे. अन्बझगण की याचिका में उल्लिखित तारीखों के संदर्भ में कहा कि उस वक्त वे महानगर के पुलिस आयुक्त नहीं थे। इन तारीखों पर घूस दिए जाने का आरोप लगाया गया था।

पुलिस अधिकारियों पर उठाए सवाल

गुटखा कांड को लेकर कार्रवाई करने के सिलसिले में सरकार को लिखे पत्र का हवाला देते हुए उन्होंने मंत्रियों व नेताओं की मिलीभगत से जुड़े सवाल पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। बहरहाल, उन्होंने कुछ अधिकारियों पर साफ तौर पर तोहमत लगाई। एस. जॉर्ज ने माधवरम गोदाम में छापे के बाद उस वक्त खुफिया विभाग के पुलिस उपायुक्त वरदराजू को इस बारे में जानकारी नहीं होने पर सवाल उठाया। साथ ही उस वक्त सीसीबी के उपायुक्त रहे जयकुमार पर सीधा आरोप लगाया कि उनको इस पूरे कांड की जानकारी थी।

Ad Block is Banned