scriptFormer TN Pollution Control Board Chairman Venkatachalam ends life | तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एवी वेंकटचलम ने की खुदकुशी, घर में मिला शव | Patrika News

तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एवी वेंकटचलम ने की खुदकुशी, घर में मिला शव

पिछले एआईएडीएमके शासन के दौरान 2019 में वेंकटाचलम को तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

चेन्नई

Published: December 02, 2021 08:22:05 pm

चेन्नई.

तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एवी वेंकटचलम (63) ने गुरुवार शाम को कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। सतर्कता और भ्रष्टाचार विरोधी निदेशालय (डीवीएसी) के अधिकारियों ने हाल ही आय से अधिक संपत्ति के मामले में वेंकटाचलम के आवास और कार्यालय पर दबिश दी थी।

Former TN Pollution Control Board Chairman Venkatachalam ends life
Former TN Pollution Control Board Chairman Venkatachalam ends life

पुलिस सूत्रों ने कहा कि उनका शव वेलचेरी स्थित आवास पर लटका हुआ पाया गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल भिजवाया। वेंकटचलम मूल रूप से सेलम जिले के आत्तूर अम्मम्बलयम के रहने वाले हैं। उन्होंने तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के निदेशक के रूप में काम किया और 2018 में सेवानिवृत्त हुए। पिछले एआईएडीएमके शासन के दौरान 2019 में वेंकटाचलम को तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था।

वेंकटाचलम पर आपराधिक कदाचार और आपराधिक हेराफेरी का आरोप था। डीवीएसी ने 27 सितम्बर को उनकी सेवानिवृत्ति से पहले उनके और उनके परिवार के सदस्यों के परिसरों पर छापेमरी की। डीवीएसी ने चेन्नई में टीएनपीसीबी कार्यालय और सेलम में वेंकटाचलम के आवासों सहित पांच स्थानों पर छापेमारी की और 13.5 लाख रुपए नकदी, 6.5 किलो सोने के आभूषण (2.5 करोड़ रुपये मूल्य के) जब्त किया।

इसके अलावा करीब 10 किलो चंदन की लकड़ी की वस्तुएं और टुकड़े मिले थे। उनपर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। डीवीएसी द्वारा दर्ज की गई पहली सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) के अनुसार, उन्होंने अन्य अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर अपने पद का दुरुपयोग किया था।

चूंकि वह वन विभाग में एक उच्च पदस्थ अधिकारी थे, इसलिए इस बात की जांच चल रही थी कि क्या वह अवैध चंदन की तस्करी में शामिल थे और चंदन के उत्पाद और चंदन की लकड़ी कैसे मिली।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: आज इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का PM Modi करेंगे लोकार्पणदिल्ली में जनवरी में बारिश का पिछले 32 साल का रिकॉर्ड ध्वस्त, ठंड से छूटी कंपकंपी, एयर क्वालिटी में सुधारCovid-19 Update: भारत में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्डUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारU19 World Cup: कौन है 19 साल का लड़का Raj Bawa? जिसने शिखर धवन को पछाड़ रचा इतिहासAjmer Urs : 1 फरवरी को उतरेगा संदल, 2 को खुलेगा जन्नती दरवाजाUP Top News: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, दो पालियों में परीक्षाबेहद खतरनाक है ओमिक्रोन, इस अंग को कर रहा खराब, जानिए कैसे करें बचाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.