मृतक संख्या छह हुई

बीच से तिरुमलपुर ओर जाने वाली ट्रेन सेंट थॉमस माउंट पर पहुंची, फुटबोर्ड पर चढ़े हुए लोग स्टेशन के पास की दीवार से टकरा कर ट्रेन और दीवार के बीच फंस कर कुचल गए।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 24 Jul 2018, 03:38 PM IST


चेन्नई. यहां मंगलवार सुबह सेंट थॉमस माउंट रेलवे स्टेशन के निकट यात्रियों से खचाखच भरी ईएमयू (इलेक्ट्रिक मल्टिपल इकाई) टे्रन से गिरकर छह लोगों की मौत हो गई जबकि दस के अधिक अन्य यात्री घायल हो गए। घायल यात्रियों को रॉयपेट्टा और जीएच सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शुरूआती जांच में दुर्घटना यात्रियों के लापरवाही की वजह से होने का पता चला है। तीन मृतकों की पहचान जे. नवीन कुमार (२३), शिवकुमार (२२) और भरत (१६) के रूप में हुई है।
रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के पुलिस महानिदेशक वीरेंद्र कुमार ने कहा कि अन्य मृतकों की पहचान की जा रही है।

रेलवे अधिकारियों के अनुसार दुर्घटना मंगलवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे हुई जब चेन्नई बीच से तिरुमालपुर जा रही ईएमयू ट्रेन यात्रियों से खचाखच भरी हुई थी। कोच के अंदर जगह की कमी की वजह से १० से अधिक यात्री फुटबॉर्ड पर यात्रा कर रहे थे। उसी दौरान इलीक्ट्रीक पोल या दीवार से टकराने के बाद कुछ यात्री नीचे गिर गए। तीन यात्रियों की मौत मौके पर ही हो गई जबकि तीन अन्य की अस्पताल ले जाने और इलाज के दौरान मौत हो गई। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। उनमें कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है।
रेलवे से प्राप्त विज्ञप्ति के अनुसार ट्रेंन संख्या ४०७०१ सेंट थॉमस माउंट रेलवे स्टेशन के निकट हादसा हुआ। साढ़े आठ बजे दौड़ती ट्रेन से दस यात्री गिर गए और तीन की मौत हो गई। और छह घायल हो गए। सूचना प्राप्त होते ही माम्बलम के जीआरपी और सेंट थॉमस माउंट के आरपीएफ घटनास्थल पहुंचे और १०८ एम्बुलेंस को सूचित किया। घायलों को रॉयपेट्टा और जीएच सरकारी अस्पताल भेजा। विज्ञप्ति के अनुसार तीन यात्रियों की मौत घटनास्थल पर हुई जबकि एक की अस्पताल ले जाने के दौरान हुई।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

सूचना प्राप्त होते ही माम्बलम के जीआरपी और सेंट थॉमस माउंट के आरपीएफ घटनास्थल पहुंचे और १०८ एम्बुलेंस को सूचित किया। घायलों को रॉयपेट्टा और जीएच सरकारी अस्पताल भेजा

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned