वेस्ट से वेल्थ बनाने की प्रौद्योगिकी स्वागतयोग्य : सारस्वत

पर्यावरण के लिए लाभदायक

By: Santosh Tiwari

Published: 03 Mar 2019, 05:42 PM IST

  • इस प्रौद्योगिकी के जरिए कोयला आधारित बिजली संयंत्र में इन खनिजों का फिजिकल सिपेरेशन किया जा सकेगा

चेन्नई. नीति आयोग के पूर्ण कालिक सदस्य डा.वी.के.सारस्वत ने फ्लाई ऐश से हाई वैल्यू मिनरल्स की रिकवरी के लिए न्यू टेक्नालाजी पायलट प्लांट का उद्घाटन किया है। उद्घाटन का यह कार्यक्रम स्टार ट्रेस, रेड हिल्स चेन्नई में हुआ। इस संयंत्र में वेस्ट के वाल्यूम को कम करने के लिए प्रभावी लागत वाली प्रौद्योगिकी होगी। इस प्रौद्योगिकी के जरिए कोयला आधारित बिजली संयंत्र में इन खनिजों का फिजिकल सिपेरेशन किया जा सकेगा।
साथ ही विषाक्त सामग्री का भी पृथक्करण किया जा सकेगा। सारस्वत ने इस मौके पर अपने संबोधन में कहा कि इस तरह की प्रौद्योगिकी वेस्ट से वेल्थ बनाने की है। इससे पर्यावरण को लाभ होगा। अन्य वक्ताओं ने अपशिष्ट प्रसंस्करण में सार्वजनिक निजी भागीदारी की जरूरत पर बल दिया। इस मौके पर प्रोजेक्ट को-आर्डिनेटर एस.आनंद, स्टार ट्रेस के सीएमडी पी.आर.माहेश्वरन, मिनरल्स डिविजन के डिप्टी एडवाइजर आर.सरवननभवन तथा एनटीपीसी के डीजीएम एस.के.पाठक उपस्थित थे।

Santosh Tiwari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned