मुख्यमंत्री ने केंद्र से की वैक्सीन की मांग

राज्य के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने बुधवार को केंद्र सरकार से अन्य राज्यों की तरह तमिलनाडु को भी पर्याप्त वैक्सीन प्रदान करने की अपील की है।

By: Vishal Kesharwani

Published: 02 Jun 2021, 06:44 PM IST

-केंद्रीय मंत्री को लिखा पत्र और पर्याप्त आवंटन का किया आग्रह
चेन्नई. राज्य के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने बुधवार को केंद्र सरकार से अन्य राज्यों की तरह तमिलनाडु को भी पर्याप्त वैक्सीन प्रदान करने की अपील की है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन को लिखे एक पत्र में स्टालिन ने कहा अन्य राज्यों के बराबर ही तमिलनाडु को भी वैक्सीन आवंटित होने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि आवंटित हुए वैक्सीन मंगलवार को लगभग खत्म हो चुके थे और वैक्सीनेशन का कार्य रूकने की कतार में पहुंच गया था। ऐसी परिस्थिति में मैं आपसे तमिलनाडु को प्राथमिकता देने और जून के पहले सप्ताह में ही जून की आपूर्ति करने का आग्रह करता हूं।

 

इससे बिना किसी बाधा के अभियान को जारी रखने और पिछले पखवाड़े में हमारे द्वारा उत्पन्न गति को बनाए रखने में मदद मिलेगी। इस संबंध में मै आपके तत्काल हस्तक्षेप का आग्रह करता हूं, ताकि राज्य की जनता को उसी रफ्तार से वैक्सीन देने की प्रक्रिया जारी रखी जा सके। उन्होंने चेंगलपट्टू में एकीकृत वैक्सीन कॉम्प्लेक्स में जल्द से जल्द टीकों का उत्पादन शुरू करने के आग्रह को भी दोहराया। अपने पत्र में उन्होंने इस तथ्य को रेखांकित किया कि तमिलनाडु को अपनी जनसंख्या के आकार और केसलोएड के अनुपात में टीके नहीं मिल रहे हैं और सेंटर चैलन व अन्य चैनलों के माध्यम से इसे केवल 50 लाख के विशेष आवंटन से ही ठीक किया जा सकता है।

 

हालिया के आवंटन के तहत राज्य को पहले 25.८४ लाख और बाद में 16.७४ लाख डोज प्राप्त हुए थे। इस आवंटन के लिए मै आपका आभार व्यक्त करता हूं, लेकिन उपरोक्त आवंटन राष्ट्रीय स्तर पर व्यापक वृद्धि के अनुरूप है। इसलिए राज्य सरकार स्पेशल आवंटन चाहता है ताकि पहले के आवंटन में हुए कमी को पूरा किया जा सके।

 


पिछले एक महीने में उठाए गए कदमों पर डाला प्रकाश
मुख्यमंत्री ने पिछले एक महीने के दौरान राज्य सरकार द्वारा टीको की झिझक को खत्म करने के लिए किए गए प्रयासों और राज्य की जनता के बीच टीकों की जबरदस्त मांग पैदा करने को लेकर उठाए गए विभिन्न कदमों पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि चेंगलपट्टू में एकीकृत वैक्सीन कॉम्प्लेक्स में जल्द से जल्द टीकों का उत्पादन शुरू करने की अपील की गई थी, जिसके बाद केंद्र ने कहा है कि वे संयंत्र को संचालित करने के लिए अपने स्तर पर सहयोगी की तलाश करेंगे।

 

स्टालिन ने कहा कि मै अपने पहले की मांग को दोहराना चाहता हूं और बताना चाहता हूं कि इसका तत्काल संचालन शुरू करना ही वर्तमान की जरूरत है। इसका संचालन अपने सहयोगी के साथ मिलकर चाहे केंद्र सरकार करे या राज्य सरकार, लेकिन इसका संचालन तत्काल शुरू करना वर्तमान की मांग है। इसमें अब किसी प्रकार की देरी नहीं होनी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि
मंगलवार को कोरोना वैक्सीन को जनांदोलन का रूप देने की तैयारी में जुटी राज्य सरकार की उस वक्त लाज बच गई जब केंद्र सरकार से आवंटित कोटे की खुराक मंगलवार शाम यहां पहुंची थी। दरअसल, टीकों का स्टॉक खत्म हो जाने के कारण सरकार ने 4 दिनों तक टीकाकरण अभियान को रोकने का निर्णय किया था जिसे शाम को बदल दिया गया। केंद्र से प्राप्त टीकों को जिलेवार रवाना करने के इंतजाम भी तत्काल प्रभाव से शुरू कर दिए गए थे। सुबह ही चिकित्सा मंत्री एम. सुब्रमण्यन 2 से 5 जून तक टीकाकरण पर रोक लगाने की जानकारी दी थी।

Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned