हाईकोर्ट ने मरीटाइम की याचिका खारिज की

हाईकोर्ट ने मरीटाइम की याचिका खारिज की

shivali agrawal | Publish: Jun, 17 2019 03:41:38 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

अकादमिक वर्ष २०१८-१९ में मरीटाइम स्टडीज इंस्टीट्यूशन में दाखिला लेने वाले ११ विद्यार्थियों के सर्टिफिकेट वापस करने के मामले में एकल जज द्वारा सुनाए गए फैसले के खिलाफ दायर की गई याचिका को मद्रास हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है।

चेन्नई. अकादमिक वर्ष २०१८-१९ में मरीटाइम स्टडीज इंस्टीट्यूशन में दाखिला लेने वाले ११ विद्यार्थियों के सर्टिफिकेट वापस करने के मामले में एकल जज द्वारा सुनाए गए फैसले के खिलाफ दायर की गई याचिका को मद्रास हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। सदर्न अकादमी ऑफ मरीटाइम स्टडीज को सर्टिफिकेट और फीस वापस करने को लेकर विद्यार्थियों ने कोर्ट में याचिका दायर की थी, ताकि अगले अकादमिक वर्ष से वह किसी और संस्थान में जाकर पढ़ाई जारी रख सकें।
इस मामले में कोर्ट ने १७ जून से पहले संस्थान को सर्टिफिकेट वापस करने के आदेश दिए थे। इस फैसले के खिलाफ संस्थान ने कोर्ट में याचिका दायर की और कहा की उन्हें उनका पूरा पक्ष रखने का मौका नहीं दिया गया।

 

 

 

गट हैल्थ एंड आयुर्वेद पर कार्यशाला
चेन्नई. जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गनाइजेशन के तत्वावधान में हाल ही होटल हयात ए रीजेंसी में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें करीब १७० महिलाओं ने हिस्सा लिया। कार्यशाला का विषय था-गट हैल्थ एंड आयुर्वेद। विशिष्ट अतिथि प्राण हैल्थकेयर केन्द्र मुम्बई की संस्थापक एवं स्वास्थ्य विशेषज्ञ डिंपल जांगड़ा थी।
्र्र्र्रइस मौके पर डिंपल जांगड़ा ने महिलाओं को पेट का स्वास्थ्य, आंत का मस्तिष्क व त्वचा से कनेक्शन तथा दैनिक जीवन में आयुर्वेद का महत्व आदि प्रमुख अवधारणाओं पर विशेष प्रकाश डाला एवं महिलाओं को प्रशिक्षित भी किया। उन्होंने अपने शरीर की श्रेणी के अनुसार पंचमहाभूत, दोष व भोजन जैसी अवधारणाएं भी सिखाई। साथ ही बताया कि दिन में किस-किस समय क्या भोजन करना चाहिए। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि प्राण स्वास्थ्य सेवा केन्द्र की २०१७ में स्थापना हुई जिसका उद्देश्य कैंसर, गठिया, ऑस्टिओपोरोसिस, रुमेटिज्म, स्पोंडिलाइसिस, चेहरे का पक्षाघात, पक्षाघात, मल्टीपल स्केलेरोसिस, अस्थमा, माइग्रेन, साइनस और अन्य विकारों जैसे पुराने रोगों का उपचार करना है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned