scriptIIT Madras and WayCool Foods Join Hands to bring Regenerative Agricult | टिकाऊ कृषि-प्रथाओं के बारे में किसानों के बीच होगा ज्ञान का संचय और प्रसार | Patrika News

टिकाऊ कृषि-प्रथाओं के बारे में किसानों के बीच होगा ज्ञान का संचय और प्रसार

locationचेन्नईPublished: May 25, 2023 09:04:23 pm

Submitted by:

Santosh Tiwari

-किसानों के लिए पुनर्योजी कृषि तकनीक, जलवायु स्मार्ट कृषि प्रथाओं की शिक्षा

टिकाऊ कृषि-प्रथाओं के बारे में किसानों के बीच होगा ज्ञान का संचय और प्रसार
टिकाऊ कृषि-प्रथाओं के बारे में किसानों के बीच होगा ज्ञान का संचय और प्रसार
चेन्नई.वेकूल फूड्स ने आइआइटी मद्रास (आइआइटीएम) के साथ रणनीतिक साझेदारी में प्रवेश किया ताकि आइआइटीएम के आरएएसए (रीजनरेटिव एग्रीकल्चर सस्टेनेबल आर्किटेक्चर) टेक स्टैक के तहत किसानों के लिए पेशकश का विस्तार किया जा सके। एमओयू वेकूल फूड्स और आईआईटीएम दोनों को कृषि के एक स्थायी मॉडल की ओर बढऩे में मदद करके किसानों के लाभ के लिए उनकी पेशकशों में तालमेल बिठाने में सक्षम बनाएगा। वेकूल फूड्स आरएएसए स्टैक के सीडिंग और विस्तार के लिए तकनीकी समाधान प्रदान करेगा। मिट्टी से लेकर बिक्री तक और कृषि-स्टैक के डिजाइन और संरचना को और मजबूत करेगा। साझेदारी का उद्देश्य टिकाऊ कृषि-प्रथाओं के बारे में किसानों के बीच ज्ञान का संचय और प्रसार करना भी होगा। इस अवसर पर कार्तिक जयरामन, प्रबंध निदेशक - वेकूल फूड्स ने कहा आईआईटी मद्रास के साथ साझेदारी भारतीय किसानों के बीच पुनर्योजी कृषि को अपनाने की दिशा में हमारे निरंतर प्रयासों को और बढ़ावा देगी। आइआइटीएम प्रवर्तक के सीईओ डॉ. एम.जे.शंकर रमन ने कहा हम इस रोमांचक पहल पर वेकूल फूड्स के साथ सहयोग करने के लिए रोमांचित हैं, जो हमारी अर्थव्यवस्था का आधार है। हम मानते हैं कि हम फसल की उपज में सुधार करने, कचरे को कम करने और मदद कर सकते हैं।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.