कितने करोड़ के मालिक बने दीपा और दीपक, पढ़िए कितनी सम्पत्ति की मालकिन थी जयललिता

तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय जे. जयललिता (J. Jayalalitha) अकूत सम्पत्ति की मालकिन रहीं और अपने पीछे अरबों की सम्पत्ति छोड़ गई, जिन्दा रहते अपने भतीजे दीपक और भतीजी जे. दीपा से दूरी रखने वाली जयललिता दुनिया से अलविदा होने के बाद दोनों को अरबपति बना चुकी है।

By: MAGAN DARMOLA

Published: 28 May 2020, 06:20 PM IST

चेन्नई. तमिलनाडु की राजनीति में स्वर्गीय जे. जयललिता ने ऊंचा मुकाम स्थापित किया था। जयललिता आज भी लोगों के दिलों में बसी हैं। लेकिन जहां तक पारिवारिक ताने-बाने और रिश्तेदारों की बात रहीं उन्होंने किसी से निकटता नहीं दिखाई। वे अकूत सम्पत्ति की मालकिन रहीं और अपने पीछे अरबों की सम्पत्ति छोड़ गई।

पार्टी नेता वी. पुगलेंदी जिन्होंने स्वयं को जयललिता की सम्पत्तियों का प्रशासक घोषित करने की मांग की थी का दावा था कि उनकी ९१३ करोड़ की सम्पत्तियां थी। अब इसकी पुष्टि होनी है लेकिन इस बीच यह तय हो चुका है जिन्दा रहते अपने भतीजे दीपक और भतीजी जे. दीपा से दूरी रखने वाली जयललिता दुनिया से अलविदा होने के बाद दोनों को अरबपति बना चुकी है।

यह बात और है कि आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने के मामले का सुप्रीम कोर्ट से अंतिम निर्णय जयललिता के दिवंगत होने के बाद आया था जो उनके खिलाफ ही था। उस फैसले के तहत उन पर १०० करोड़ का जुर्माना है। यह अर्थदण्ड भी जयललिता की सम्पत्तियों की नीलामी से ही वसूला जाना है।

ज्ञातव्य है कि जयललिता पर साल 1996 में भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने आय से अधिक संपत्ति हासिल करने का मामला दर्ज़ कराया था जिसमें वे 18 साल बाद 27 सितंबर 2014 को दोषी ठहराई गईं थी। विशेष अदालत ने उनको चार साल की जेल व 100 करोड़ रुपए ज़ुर्माने की सज़ा सुनाई थी। उन पर 1991-1996 के दौरान पहली बार मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए लगभग 66.67 करोड़ रुपए की संपत्ति जमा करने का आरोप था।

फिल्मी जगत पर कई सालों तक राज करने वाली जयललिता काफी समृद्ध रहीं। कोडऩाड़ एस्टेट का बंगला उनकी पसंदीदा जगह थी जहां वे आराम फरमाती थी। ऐसा ही एक एस्टेट कांचीपुरम के सिरुदावुर में भी है। जयललिता की चल और अचल सम्पत्तियों का आधिकारिक अंदाजा उनके द्वारा लड़े गए विधानसभा चुनावों और उपचुनावों के दौरान दाखिल किए गए नामांकनों से लगाया जा सकता है।

2016 के विधानसभा चुनाव के दौरान जयललिता ने चेन्नई के डॉ. राधाकृष्णन नगर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था। उस वक्त जयललिता की कुल संपत्ति का मूल्य 113 करोड़ रुपये था जिसमें हाथ की नकदी केवल ४१ हजार व बैंक खातों में दस करोड़ तिरेसठ लाख रुपये जमा थे। जयललिता की संपत्ति में 27 करोड़ रुपये से अधिक के बांड, डिबेंचर और कंपनियों के शेयर थे।

गाडिय़ां व अचल सम्पत्तियां (2016 के हलफनामे के अनुसार संक्षेप में)

  • दो टोयटा प्राडो एसएयूवी, एक कंटेसा, एक एंबेसडर, महिंद्रा बोलेरो और महिंद्रा जीप सहित कुल नौ गाडिय़ां
  • बारह सौ पचास किलोग्राम चांदी के आभूषण
  • 24 हजार वर्ग फीट का पोएस गार्डन स्थित वेदा निलयम आवास
  • चार कमर्शियल इमारतें
  • 15 एकड़ का एक प्लॉट तेलंगाना के हैदराबाद में
  • कांचीपुरम जिले में लगभग चार एकड़ का प्लॉट

जयललिता की सम्पत्तियां (चुनाव नामांकन के अनुसार)

वर्ष कुल सम्पत्तियां
2006 - 24.65 करोड़
2100 - 51.40 करोड़
2013* - 117.13 करोड़
2016 - 113.73 करोड़

* 2013 में आर. के. नगर विधानसभा उपचुनाव लड़ा।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned