प्रेमिका से मिलने क्वारंटाइन से फरार हो गया कोरोना संदिग्ध

Anything for love: Madurai man jumps quarantine to meet girlfriend: आखिरकार पुलिस उसे पकड़कर मदुरै लेकर आई और युवती को भी क्वारंटाइन कर दिया गया है।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Updated: 27 Mar 2020, 06:05 PM IST

चेन्नई.

इस समय पूरी दुनिया जानलेवा कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है और इसे लेकर लोग अब सजग हो रहे हैं। खतरनाक वायरस के प्रसार पर रोक लगाने के लिए देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया है ऐसे में कुछ लोग इस दौरान भी गैरजिम्मेदाराना हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। कुछ लोग खुद तो मरेंगे ही, अपने साथ दूसरों को भी ले डूबेंगे।

ऐसा ही एक मामला तमिलानडु के मदुरै जिले में आया जहां अपनी प्रेमिका की शादी रोकवाने के लिए दुबई से मदुरै आया 24 वर्षीय युवक क्वारंटाइन से भागकर प्रेमिका से मिलने शिवगंगा पहुंच गया। शिवगंगा में वह अपनी प्रेमिका के साथ कुछ वक्त साथ बिताया। हालांकि तबतक पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने उसकी तलाश शुरू कर दी थी। आखिरकार पुलिस उसे पकड़कर मदुरै लेकर आई और युवती को भी क्वारंटाइन कर दिया गया है।

दुबई से लौटा था युवक
वह युवक हाल ही में दुबई से मुम्बई लौटा था और २१ मार्च को मुम्बई से मदुरै पहुंचा। मदुरै में संदिग्ध पाए जाने के बाद उसे चिन्नाउडैप्पु में क्वारंटाइन में रखा गया था। बुधवार रात को वह क्वारंटाइन सेंटर से भागने में कामयाब हो गया। वह अपने दोस्त का बाइक लेकर अपनी प्रेमिका से मिलने शिवगंगा के लिए रवाना हो गया।

पुलिस ने दबोचा
उसकी अनुपस्थिति की सूचना तुरंत स्वास्थ्य विभाग और पुलिस को दी गई। जिला स्वास्थ्य शिक्षा के उप निदेशक ने अवनियापुरम पुलिस को सूचना दी। अवनियापुरम पुलिस ने लापता का मामला दर्ज कर आसपास के पुलिस को सूतिच किया। शिवगंगा पुलिस ने उसे गुरुवार को दबोच लिया। वह अपनी प्रेमिका के साथ कुछ घंटे साथ रहा था। पुलिस उसे पकड़कर मदुरै लेकर आई और युवती को संदेह के आधार पर क्वारंटाइन कर दिया गया।

30 मार्च को गर्लफ्रेंड की है शादी
पूछताछ के दौरान उस शख्स ने पुलिस को बताया कि लड़की के माता-पिता उनके रिश्ते के खिलाफ थे और इसलिए वह अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए भाग गया था। दरअसल उसकी गर्लफ्रेंड की शादी दूसरे व्यक्ति के साथ ३० मार्च को तय है। क्वारंटाइन से भागने और दूसरों में वायरस फैलाने की आशंका के आरोप में पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया है।

लॉकडाउन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक सप्ताह में दूसरी बार राष्ट्र को संबोधित करते हुए कोरोनो वायरस महामारी के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। पीएम मोदी ने इस फैसले को लेकर कहा था कि अगर लोगों ने लॉकडाउन को गंभीरता से नहीं लिया गया तो राष्ट्र को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। शुक्रवार सुबह तक देश में कोरोना से पीड़ित लोगों की संख्या 700 के पार पहुंच गई। लॉकडाउन के चलते आम जनमानस को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है और हजारों मजदूर अपने घरों के लिए पैदल ही निकल रहे हैं।

coronavirus prevention tips
Show More
PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned