प्रेमिका पर हमला कर युवक ने उठाया ऐसा कदम

प्रेमिका पर हमला कर युवक ने उठाया ऐसा कदम

MAGAN DARMOLA | Updated: 14 Jun 2019, 10:06:49 PM (IST) Chennai, Chennai, Tamil Nadu, India

दोनों की हालत गंभीर

चेन्नई. चेटपेट रेलवे स्टेशन परिसर में शुक्रवार रात एक युवक ने तीखी नोंकझोंक के बाद महिला बैंककर्मी पर जानलेवा हमला कर दिया और उसके बाद चलती टे्रन के आगे कूदकर जान देने की कोशिश की। घटना रात ८.०५ बजे की है।

शुरुआती जांच में पता चला कि ईरोड निवासी सुरेन्द्र (२८) के केममोझी (२५) के साथ प्रेम प्रसंग था। दोनों के रिश्तों में दरार पडऩे से गुस्साए सुरेंद्र ने शुक्रवार को चेटपेट रेलवे स्टेशन परिसर में केममोझी पर जानलेवा हमला कर दिया। उसके बाद सुरेन्द्र ने लोकल ट्रेन के आगे कूदकर जान देने की कोशिश की लेकिन ट्रेन की गति धीमी होने से उसकी जान बच गई। उसके सिर के पिछले हिस्से में गंभीर चोटें आई हैं। उसे राजीव गांधी सरकारी हॉस्टिपल में भर्ती कराया गया है जबकि आरपीएफ पुलिस ने युवती को कीलपॉक मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया। दोनों का इलाज चल रहा है।

दक्षिण रेलवे के चेन्नई डिवीजन में वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त संतोष एन. चंद्रन ने बताया कि सुरेन्द्र ईरोड का रहने वाला है और केममोझी भी ईरोड की रहने वाली है। केममोझी चेन्नई में कॉपरेटिव बैंक में काम करती है। सुरेन्द्र केममोझी से मिलने चेन्नई आया था। दोनों चेटपेट रेलवे स्टेशन पर मिले। वहां दोनों में किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ। यह देख वहां ड्यूटी कर रहे आरपीएफ पुलिसकर्मियों ने उन्हें स्टेशन ने बाहर जाने को कहा लेकिन वे नहीं गए और उनके बीच फिर नोकझोंक हुई। तीखी बहस के बाद सुरेन्द्र ने धारदार हंसिये से केममोझी की गर्दन और सीने में वार कर दिया और लोकल ट्रेन के आगे कूद गया। केममोझी रक्तरंजित हालत में वहां गिर गई और अचेत हो गई। आरपीएफ बल के जवानों ने उसे अस्पताल पहुंचाया। वहीं सुरेन्द्र को लोकल ट्रेन के यात्रियों ने एगमोर अस्पताल पहुंचाया। घटना के बाद रेलवे परिसर में तनाव की स्थिति बनी हुई है। सूचना पाकर रेलवे अधिकारी मौके पर पहुंचे और मौका मुआयना किया।

  • नुंगमबाक्कम रेलवे स्टेशन जैसी घटना

इस ही एक घटना वर्ष २०१६ में २४ जून को हुई थी। तब नुंगमबाक्कम रेलवे स्टेशन परिसर में आईटी कंपनी इंफोसिस की एक 24 वर्षीया महिला कर्मचारी स्वाति निर्मम हत्या कर दी गई थी। वह सुबह दफ्तर जाने के लिए ट्रेन पकडऩे स्टेशन पहुंची थी, तभी अज्ञात हमलावर ने वारदात को अंजाम दिया और मौके से फरार हो गया था। सुबह 6.20 बजे उसके पिता उसे रेलवे स्टेशन पर छोड़कर आगे बढ़ गए। चश्मदीदों ने बताया कि स्वाति अपनी ट्रेन का इंतजार कर रही थी कि तभी एक छोटे कद का आदमी उसके पाया पहुंचा। दोनों के बीच किसी बात को लेकर बहस हुई, जिसके बाद देखते ही देखते उस कातिल ने बैग से दरांती निकालकर स्वाति पर वार कर दिया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned