सातानकुलम मामले के आरोपियों को मिलेगी अधिकतम सजा: मंत्री षणमुगम

कानून मंत्री सी.बी. षणमुगम ने कहा कि एआईएडीएमके सरकार द्वारा मामले के जिम्मेदार आरोपियों को सख्त सजा सुनिश्चित की जाएगी।

By: Vishal Kesharwani

Published: 02 Jul 2020, 01:26 PM IST


ेचेन्नई. सातानकुलम कस्टडी मामले में डीएमके अध्यक्ष एम.के. स्टालिन द्वारा मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी से मांगे गए इस्तीफा की निंदा करते हुए एआईएडीएमके के वरिष्ठ नेता और कानून मंत्री सी.बी. षणमुगम ने कहा कि एआईएडीएमके सरकार द्वारा मामले के जिम्मेदार आरोपियों को सख्त सजा सुनिश्चित की जाएगी। यहां जारी एक विज्ञप्ति में उन्होंने कहा पीडि़त परिजनों के दर्द के बारे में सरकार को अच्छे से पता है और निश्चित तौर पर उन्हें न्याय दिलाया जाएगा। घटना सामान्य लॉक अप मौतों के समान नहीं थी की ओर इशारा करते हुए षणमुगम ने कहा मामले में लिप्त पुलिसकर्मी, सरकारी डॉक्टर्स, न्यायाधीश, और जेल अधिकारी समेत कई अन्य लोगों के खिलाफ मजबूत आरोप लगाए गए हैं।

 

आरोपों से सच्चाई को बाहर निकालना सरकार का कर्तव्य है और इस कर्तव्य को बखूबी निभाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मद्रास हाईकोर्ट की मदुरै बेंच द्वारा प्रत्यक्ष रूप से इस मामले में निगरानी रखी जा रही है। इसके अलावा किसी भी आशंकाओं से बचने के लिए सरकार ने मामले की जांच सीबीआइ को सौंप दी है। मामले के संंबंध में टिप्पणी करने को लेकर स्टालिन की निंदा करते हुए मंत्री ने कहा कि स्टालिन कुछ मीडिया संगठनों, जो डीएमके व उसके सहयोगी दलों का समर्थन करती है, के सहयोग से राजनीतिक लाभ लेने के लिए सातानकुलम जांच प्रक्रिया में बाधा डालने की कोशिश कर रहे हैं, जो कि सही नहीं है। षणमुगम ने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के दौरान बिना वैध ईपास के ही डीएमके युवा विंग के सचिव उदयनिधि ने चेन्नई से तुत्तुकुड़ी तक का दौरा किया था।

Corona virus COVID-19 COVID-19 virus
Vishal Kesharwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned