मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जिला कलक्टरों के साथ की बैठक

उन्होंने 104 नं. को व्यापक रूप से प्रचारित किया जाना चाहिए और उन अस्पतालों का विवरण देने के लिए कार्रवाई की जानी चाहिए जो नंबर पर कॉल करते ही कोविड-१९ के मरीजों का उपचार करते हैं। उनको 30 मिनट के भीतर बिस्तर प्रदान किया जाना चाहिए।

By: Dhannalal Sharma

Published: 30 Sep 2020, 09:02 AM IST

नेल्लोर. मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने मंगलवार को जिला कलक्टरों और एसपी के साथ तडेपल्ली कैंप कार्यालय से स्पंदना कार्यक्रम के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक की। बैठक में उन्होंने कहा राज्य में कोरोना संक्रमितों में कमी आ रही है, साथ ही मृत्य दर में भी कमी आई है। उन्होंने 104 नं. को व्यापक रूप से प्रचारित किया जाना चाहिए और उन अस्पतालों का विवरण देने के लिए कार्रवाई की जानी चाहिए जो नंबर पर कॉल करते ही कोविड-१९ के मरीजों का उपचार करते हैं। उनको 30 मिनट के भीतर बिस्तर प्रदान किया जाना चाहिए।
कलक्टर से ली बाढ़ के उपायों की जानकारी
सीएम ने कलक्टरों और अधिकारियों को सरकार के उद्देश्यों और कार्यान्वित की जाने वाली योजनाओं के बारे में निर्देश दिया। उन्होंने नेल्लोर जिला कलक्टर चक्रधर बाबू से बाढ़ की रोकथाम के उपायों के बारे में जानकारी ली। कलक्टर ने सीएम को बताया कि वर्तमान में कमंडलु में जल स्तर 54 फीट पहुंचा है। ऊपरी इलाकों से अधिक आने वाले पानी को सोमशिला जलाशय से छोड़ा गया था। उन्होंने कहा, हम पहले ही सोमशिला परियोजना, तेलुगु गंगा और राजस्व अधिकारियों के साथ भारी बारिश और बाढ़ के मामले में लोगों की सुरक्षा के लिए योजनाओं पर बैठक कर चुके हैं और उचित कार्रवाई करेंगे। पुनर्वास शिविरों में बाढ़ प्रभावित अंतर्देशीय क्षेत्रों से लोगों को निकाल दिया है। बाढ़ से 5 क्षेत्र और 21 गांव प्रभावित हुए हैं। साथ ही कलक्टर ने बताया, हम आज जिले में 12 आश्रय शिविर लगा रहे हैं। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, लगभग 2,480 एकड़ में खड़ी फसल को नुकसान पहुंचा है और बाद में आकलन करके पूरी रिपोर्ट भेजी जाएगी।

Dhannalal Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned