दिव्यांग बलात्कार मामले में 17 आरोपियों पर गुण्डा एक्ट लगाया

दिव्यांग बलात्कार मामले में 17 आरोपियों पर गुण्डा एक्ट लगाया

Purushotham Reddy | Publish: Sep, 06 2018 06:31:57 PM (IST) Chennai, Tamil Nadu, India

महानगर पुलिस आयुक्त ए.के. विश्वनाथन के आदेश पर यह कदम उठाया


चेन्नई. दिव्यांग के साथ सात महीने तक बलात्कार करने वाले 17 आरोपियों पर पुलिस ने गुण्डा एक्ट लगाया है। महानगर पुलिस आयुक्त ए.के. विश्वनाथन के आदेश पर यह कदम उठाया गया है। घटना में शहर के एक रहवासी अपार्टमेंट में रहने वाली 12 वर्षीया दिव्यांग के साथ अपार्टमेंट में ही काम करने वाले स्टाफ कर्मियों ने सात महीने तक बलात्कार किया। उसकी बहन ने बालिका से जानकारी मिलने पर अपनी मां को इस बारे में बताया और उन्होंने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत के आधार पर महिला पुलिस ने इस मामले में 17 आरोपियों पर पोक्सो के साथ ही हत्या के प्रयास सहित दूसरे आरोप तय किए थे। सभी दोषियों की उम्र 23 से 66 वर्ष की है।

पूरा मामला तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई का है। जहां 22 दरिंदों ने एक दिव्यांग बच्ची के साथ सात महीनों तक लगातार रेप किया। पीड़ित बच्ची 11 साल की है, जो सुनने में असक्षम है। बच्ची के साथ रेप करने वाले 22 लोगों में सिक्योरिटी गार्ड्स से लेकर लिफ्ट ऑपरेटर और प्लंबर भी शामिल हैं। पुलिस ने इस पूरे मामले में सोमवार को जानकारी दी। पुलिस ने कुल 22 आरोपियों में से 18 को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि बाकियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

पूरे देश को शर्मसार कर देने वाले इस मामले ने पूरे शहर को हिलाकर रख दिया है। पीड़ित बच्ची अपने परिवार के साथ यहां एक अपार्टमेंट में रहती है और इसी अपार्टमेंट परिसर में पिछले सात महीनों से बच्ची के साथ लगातार रेप किया जा रहा था। पुलिस ने बताया कि बच्ची ने सबसे पहले इस बारे में अपनी बहन को बताया, जिसके बाद बहन ने अपने माता-पिता को इस जघन्य अपराध की जानकारी दी। बच्ची के साथ पिछले सात महीनों से हो रहे रेप के बारे में सुनते ही माता-पिता की मानो पूरी दुनिया ही उजड़ गई। पीड़िता के माता-पिता तुरंत पुलिस थाने पहुंचे, जहां उन्होंने इस दर्दनाक मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई।

Ad Block is Banned