क्यों हो रहा तमिलनाडु में मुथैया मुरलीधरन की बायोपिक '800' का विरोध? खुद बताई वजह

मैनें मासूम लोगों की हत्या का कभी समर्थन नहीं किया..बायोपिक '800' के विरोध पर मुथैया मुरलीधरन ने कहा

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 17 Oct 2020, 06:25 PM IST

चेन्नई.

श्रीलंका के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर और सनराइजर्स हैदराबाद के बॉलिंग कोच मुथैया मुरलीधरन ने कहा है कि उनकी जिंदगी पर प्रस्तावित बायोपिक ‘800’ सिर्फ उनके खेल की उपलब्धियां के बारे में हैं और उन्होंने देश में दशकों के लंबे संघर्ष के बावजूद ऐसा किया। उन्होंने इस बात पर नाराजगी व्यक्त की कि उनपर तमिलों के खिलाफ होने का आरोप लगाया जा रहा है और कहा कि ये राजनीतिक कारणों और अज्ञानता की वजह से है।

तमिलनाडु के अभिनेता विजय सेतुपति बायोपिक के जरिए अपने करियर को फिर से शुरू कर रहे हैैं। कुछ राजनीतिक पार्टियों ने गुरुवार को आरोप लगाया कि मुरलीधरन ने तमिलों से विश्वासघात किया इसलिए सेतुपति को इसमें काम नहीं करना चाहिए।

मुरलीधरन ने कहा कि उन्होंने कभी भी मासूम लोगों को मारे जाने का समर्थन नहीं किया। उन्होंने बयान जारी कर कहा कि वह श्रीलंकाई गृहयुद्ध के दर्द को समझते हैं और उनके परिवार ने श्रीलंका में अपनी यात्रा ‘कूली’ के तौर पर की थी उन्होंने कहा, ‘हम भी काफी प्रभावित रहे हैं।’

उल्लेखनीय है कि मुरलीधरन ने श्रीलंका की तरफ से 133 टेस्ट मैचों खेले हैं जिसमें उन्होंने 800 विकेट हासिल किए हैं, यही वजह है कि उनकी बायोपिक का नाम भी इसी आधार पर रखा गया है। मुरली ने 350 वनडे मैचों में भी शिरकत की है और 534 विकेट अपने नाम किए हैं।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned