एनसीसी भी ऑनलाइन, ऐप से ले रहे ट्रेनिंग

लेकिन हथियार चलाने, परेड जैसी गतिविधियां नहीं

By: Ashok Rajpurohit

Published: 07 Sep 2020, 11:02 PM IST

चेन्नई. संभवत पहली बार ऐसा हो रहा है जब एनसीसी में आनलाइन ट्रेनिंग दी जा रही है। कोविड-19 के चलते स्कूल-कालेज बन्द होने के चलते यह निर्णय लिया गया है। ट्रेनिंग के लिए बकायता ऐप लांच किया गया है। हालांकि आनलाइन ट्रेनिंग में पाठ्यक्रम पर ही अधिक जोर होगा। फिजिकल ट्रेनिंग न होने के चलते परेड, फायरिंग समेत अन्य कई गतिविधियों से कैडेट्स वंचित रहेंगे। पिछले दिनों कोरोना के खिलाफ जंग में एनसीसी कैड्ेट्स कोरोना वरियर बनकर मैदान में उतरे। विभिन्न स्थानों पर उन्होंने मोर्चा संभाला। लोग को सोशल डिस्टेंस की पालना करवाई। ऐसे में एनसीसी की भूमिका काफी अहम है।
डिफेंस का बेसिक नॉलेज
अक्सर स्कूल एवं कालेज में अध्ययन के साथ एनसीसी एक सह गतिविधि के रूप में शामिल होती है। एनसीसी का सी-सर्टिफिकेट डिफेंस के क्षेत्र में जाने वालों के लिए अहम होता है क्योंकि सी-सर्टिफिकेट हासिल करने वालों से हथियार चलाने के प्रशिक्षण, परेड समेत तमाम वे गतिविधियां करवाई जाती हैं जो डिफेंस का बेसिक प्रशिक्षण होता है।
डीजीएनसीसी मोबाइल एप्लीकेशन
रक्षा मंत्री राजनाथसिंह ने पिछले दिनों एनसीसी कैडेट्स के आनलाइन प्रशिक्षण में सहायता के लिए डीजीएनसीसी मोबाइल एप्लीकेशन लांच की थी। रक्षा मंत्रालय का मानना था कि कोविड-19 के कारण लगाए प्रतिबंधों के चलते एनसीसी कैडेट्स के प्रशिक्षण पर प्रतिकूल असर पड़ा है क्योंकि यह ज्यादातर संपर्क आधारित प्रशिक्षण है। स्कूल-कालेज अब तक नहीं खुले हैं। ऐसे में एनसीसी कैडेट्स को डिजीटल माध्यम का उपयोग कर प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया था। डीजीएनसीसी मोबाइल एप का उद्देश्य एनसीसी कैडेट्स को पाट्यक्रम, प्रशिक्षण वीडियो व अन्य प्रशिक्षण सामग्री को प्रदान करना है। इस ऐप में सवाल पूछने का विकल्प भी शामिल है। कैडेट्स के पूछे सवालों के जवाब देने की व्यवस्था भी की गई है।
फिट इंडिया मूवमेंट
फिट इंडिया मूवमेन्ट अभियान लोगों की सेहत सुधारने को लेकर एनसीसी की तरफ से फिट इंडिया मूवमेन्ट अभियान चलाया। इसके तहत एनसीसी कैडेट्स घर पर ही व्यायाम कर रहे हैं। साथ ही पड़ौस के लोगों को योग, प्राणायाम व व्यायाम के बारे में जानकारी दे रहे हैं। कोरोना काल के बीच लोगों की अधिकतर गतिविधियां घर पर ही चल रही है।
एनसीसी की ओर से आयोजित किए जा रहे शिविरों को एक भारत श्रेष्ठ भारत के आनलाइन शिविरों को नए सिरे से तैयार किया गया। विभिन्न राज्यों की संस्कृति, परंपराओं व प्रथाओं को बेहतर तरीके से समझ सकें।

Show More
Ashok Rajpurohit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned