दो साल में बनकर तैयार हो जाएगा ऐलीफेंट गेट ब्रिज, प्रवासियों को मिलेगी राहत

- 300 करोड़ की पूरी परियोजना, राज्य सरकार 85 करोड़ की लागत से बनाएगी अप्रोच रोड

-4 लाख लोगों मिलेगी राहत, बढ़ेगी ट्रेन ट्रैफिक

-व्यावसायिक गतिविधियां होंगी तेज

By: Santosh Tiwari

Published: 26 Sep 2021, 09:44 PM IST

चेन्नई.

चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन के निकट बनाए जा रहे एलीफेंट गेट ब्रिज के पूरे होने में अभी दो साल का समय लगेगा। रेलवे इस परियोजना पर 300 करोड़ रुपए खर्च कर रहा है जबकि एप्रोच रोड राज्य सरकार निर्मित करेगी। चेन्नई मंडल रेल प्रबंधक गणेश ने बताया कि यदि सब कुछ समय पर चलता रहा और कोई दिक्कत नहीं आई तो यह ब्रिज लगभग दो साल में पूरा कर लिया जाएगा। दरअसल एलीफेंट गेट ब्रिज उत्तरी चेन्नई के लोगों के लिए उनके व्यावसायिक हब साहुकारपेट आने जाने का महत्वपूर्ण मार्ग था। इसके बंद होने के कारण इन दिनों लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें या तो चेन्नई सेंट्रल या फिर बेसिन ब्रिज होकर साहुकारपेट पहुंचना पड़ रहा है। इसमें ईंधन की खपत एवं समय भी अधिक लग रहा है। यहां पुराने ब्रिज के स्थान पर नया ब्रिज बनाया जा रहा है। नए ब्रिज को बनाने का काम तेजी से चल रहा है। नया ब्रिज पुराने ब्रिज से लंबा होगा। नव निर्मित ब्रिज की लंबाई 155 मीटर होगी। इसमें स्टील स्पैन का उपयोग किया जा रहा है।

अधिक ट्रेनों का होगा परिचालन

इस नए ब्रिज के बन जाने के बाद चेन्नई सेंट्रल एवं मूर मार्केट कम्पलेक्स (उपनगरीय रेलवे स्टेशन) से अधिक संख्या में ट्रेनों का परिचालन किया जा सके। इस नए ब्रिज के निर्माण एवं विस्तार के बाद इसके नीचे रेलवे अधिक संख्या में रेलवे ट्रैक बना सकेगा। रेलवे ट्रैक के बनने से अधिक संख्या में ट्रेनें चलाई जा सकेंगी। रेल मंत्रालय ने 2008-09 में इस निर्माण कार्य को मंजूरी दी थी। 80 साल पुराने इस ब्रिज के नवनिर्माण से रेलवे यातायात एवं एलीफेंट गेट ब्रिज रोड के इस्तेमाल करने वाले लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। एक अनुमान के अनुसार करीब 4 लाख लोगों को इस पुल के बन जाने से फायदा होगा। व्यापारिक दृष्टि से भी यह ब्रिज बहुत महत्वपूर्ण है। यह वालटैक्स रोड को चूलै मेन रोड से जोड़ता है।

300 करोड़ पूरे प्रोजेक्ट का खर्च इसमें से रेलवे 35 करोड़ खर्च करेगी। 85 करोड़ राज्य सरकार खर्च करेगी जिससे एप्रोच रोड बनाया जाएगा। 180 करोड़ रुपए भूमि अधिग्रहण पर खर्च किए जाएंगे।

Santosh Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned