उत्तर पूर्व मानसून ने तमिलनाडु में दस्तक दी, अगले कुछ दिनों में तेज बारिश की उम्मीद

चेन्नई में भी शुक्रवार तक कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ बौछारें पडऩे की संभावना है।

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 28 Oct 2020, 05:29 PM IST

चेन्नई.

दक्षिण पश्चिमी मानसून में सामान्य से अधिक बारिश के बाद तमिलनाडु में उत्तर पूर्व मानसून ने प्रवेश कर लिया है। इस उत्तर पूर्व मानसून से तमिलनाडु में सबसे अधिक बारिश बारिश की उम्मीद है। पूर्वोत्तर मानसून बुधवार को तमिलनाडु और केरल सहित दक्षिण प्रायद्वीपीय क्षेत्र में पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार मॉनसून ने राज्य पर कमजोर शुरुआत की, लेकिन कुछ दिनों में इसमें तेजी आने की उम्मीद है।

उत्तर तमिलनाडु तट पर उत्तर-पश्चिमी हवाओं और बंगाल के दक्षिण-पश्चिम खाड़ी पर चक्रवाती हवाओं के चलने से पूर्वोत्तर मानसून की शुरुआत हुई। एक विस्तारित प्रवास के बाद दक्षिण पश्चिम मानसून बुधवार को देश से पीछे हट गया और पूर्वाेत्तर मानसून की शुरुआत का मार्ग प्रशस्त किया। अक्टूबर से दिसम्बर के बीच पूर्वोत्तर मानसून के दौरान तमिलनाडु में औसतन 44 सेमी बारिश होती है।

एस. बालचंद्रन, मौसम विज्ञान के उप निदेशक, चेन्नई ने कहा कि पूर्वोत्तर मानसून दक्षिण तमिलनाडु और तटीय क्षेत्रों में छिटपुट वर्षा के साथ शुरू हुआ और पूरे क्षेत्र को कवर नहीं किया। मदुरै जिले में मेलूर में 6 सेमी बारिश हुई, जो पिछले 24 घंटों के दौरान प्राप्त हुई सबसे अधिक बारिश बुधवार सुबह 8.30 बजे समाप्त हुई। चेन्नई जिले में नुंगमबाक्कम और शोलिंगनल्लूर में 1 सेमी बारिश हुई।

उन्होंने कहा कि भारी वर्षा लाने के लिए कोई महत्वपूर्ण मौसम प्रणाली नहीं थी। प्रशांत महासागर के ऊपर चक्रवात भी नमी को दूर कर रहा था। वैश्विक मौसम पैटर्न ला नीना का प्रभाव भी मानसून की कमजोर शुरुआत का एक कारण हो सकता है। हालांकि औसत शुरुआत 20 अक्टूबर के आसपास है, लेकिन सात या आठ दिनों का विचलन अभी भी सामान्य माना जाता है।

अगले दो या तीन दिनों के लिए मौसम विभाग ने दक्षिण तमिलनाडु के कुछ स्थानों और राज्य और पुदुचेरी के उत्तरी भागों के एक या दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है। तिरुनेलवेली, तेनकाशी और विरुदनगर जिलों में एक या दो क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है।

ऐसा रहेगा चेन्नई का हाल चेन्नई
सप्ताह के शुरुआती दिनों के दौरान गरज के साथ बारिश की गतिविधियां अपेक्षित हैं। जबकि सप्ताह के उत्तरार्ध से मौसमी हलचल में कुछ कमी आएगी। चेन्नई में भी शुक्रवार तक कुछ इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ बौछारें पडऩे की संभावना है। हालांकि आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और उमस बरकरार रहेगी। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 34 डिग्री और 25 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned