नहीं मिल रहा अल्पसंख्यक दर्जे का फायदा

जैन महासंघ ने की अल्पसंख्यक आयोग के वाइस चैयरमेन से मुलाकात

By: Arvind Mohan Sharma

Published: 24 May 2018, 12:28 PM IST

जैन धर्मावलम्बियों को 2014 में अल्पसंख्यक दर्जा तो मिला पर प्रधानमंत्री के पन्द्रह सूत्रों के अनुसार उन्हें इसका लाभ नहीं मिल रहा

कोयम्ब त्तूर. राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के वाइस चैयरमेन जॉर्ज कुरियन के कोयम्ब त्तूर आगमन पर श्री कोयम्बत्तूर जैन महासंघ के प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की और अपनी मागों के स बन्ध में ज्ञापन दिया। प्रतिनिधि मंडल में महासंघ के अध्यक्ष च पालाल बाफना, सचिव गुलाब चंद मेहता और पदाधिकारी शामिल थे। कुरियन को दिए ज्ञापन में बताया गया कि जैन धर्मावलम्बियों को 2014 में अल्पसंख्यक दर्जा तो मिला पर प्रधानमंत्री के पन्द्रह सूत्रों के अनुसार उन्हें इसका लाभ नहीं मिल रहा। जॉर्ज से मांग की गई कि कोयम्बत्तूर में जैन समाज के आयोजनों के लिए कोई स्थान या भवन नहीं है। शहर में जहां जैनों की आबादी है वहां पांच हजार स्क्वायर फिट जमीन आवंटित की जाए। समाज के छात्र-छात्राओं को तकनीकी कारणों से ऑन लाइन स्कालरशिप के आवेदन में दिक्कत हो रही है। इसका निदान कराया जाए।प्रदेश में अल्पसंख्यक माण पत्र लेने में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके लिए तमिलनाडु सरकार से इस बारे में स्पष्ट आदेश की जरूरत है। प्रतिनिधियों ने कहा कि अल्पसं यक होने के नाते उन्हें जिला व प्रदेश की विभिन्न समितियों में प्रतिनिधित्व दिया जाए।

 

एसएसएलसी परीक्षा में कोय बत्तूर जिले का परिणाम 95.86 फीसदी
कोय बत्तूर. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने बुधवार को दसवीं कक्षा का परिणाम जारी कर दिया है। कोय बत्तूर जिले का परिणाम 45.86 फीसदी रहा है। इस बार कोय बत्तूर जिले में कुल 40,307 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा में भाग लिया था। इनमें से 38 ,6 38 सफल रहे।वहीं पड़ोसी जिले तिरुपुर में 28 214 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी थी। इनमें 27,418 उत्तीर्ण रहे। तिरुपुर जिले का परिणाम 47.18 रहा। प्रदेश में जिले की रैकिंग सातवीं रही।इसी प्रकार नीलगिरी जिले में कुल 8 ,225 छात्र -छात्राओं ने दसवीं की परीक्षा दी।इनमें कुल 7,8 30 ने सफलता अर्जित की।जिले का परिणाम 95.20 प्रतिशत रहा, जो पिछले साल के मुकाबले 0.11 फीसदी अधिक है।

Arvind Mohan Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned