Tamilnadu प्याज की बढ़ती कीमत से खरीददारों में मायूसी

राजनीतिक पार्टियां (Political Parties) भी प्याज की बढ़ती कीमत (Price) को लेकर सड़कों पर उतर रही हैं लेकिन सरकार (Government) के पास इसके भाव कम करने का कोई विकल्प नहीं है।

चेन्नई. सब्जियों को स्वादिष्ट बनाने में प्याज का अहम रोल है। प्याज के बिना न तो शाकाहारी भोजन स्वादिष्ट हो सकता है न ही मांसाहारी। ऐसे में प्याज के आसामान छूते भाव से गृहिणियों को परेशानी होना स्वाभाविक है।
बहरहाल पूरे देश में कई जगह प्याज के आसामन छूती कीमत के कारण धरना और प्रदर्शन का दौर भी जारी है। राजनीतिक पार्टियां भी प्याज की बढ़ती कीमत को लेकर सड़कों पर उतर रही हैं लेकिन सरकार के पास इसके भाव कम करने का कोई विकल्प नहीं है।

महानगर के लोग भी हैं परेशान
अन्य शहर के तरह चेन्नई महानगर में भी प्याज के भाव सौ रुपए तक पहुंच गए हैं लिहाजा यहां के निवासी भी प्याज के बढ़ते भाव से परेशान है। जबकि महानगर की सबसे बड़ी सब्जी मंडी कोयम्बेडु में भी प्याज की आवक में काफी कमी आई है। मंडी के प्याज के एक थोक विक्रेता का कहना था कि पिछले एक महीने से नासिक और कोल्हापुर आदि से प्याज की आवक बिलकुल बंद पड़ी है। अभी कर्नाटक और आंध्रप्रदेश से प्याज की खेप आती तो है लेकिन वह नाकाफी है। यही वजह है प्याज की कीमत नीचे आने का नाम नहीं ले रही है।

आवक में आई खासा कमी
कोयम्बेडु मार्केट में प्याज के थोक व्यापारी सी. कदीरवन ने बताया कि पिछले एक महीने से प्याज की आवक में खासा कमी आई है। पहले हर दिन ५० से ६० ट्रक की आवक होती थी, लेकिन अब घटकर बमुश्किल १० से १५ ट्रक ही रह गई है।
इसी प्रकार एक अन्य विक्रेता आर. वैद्यनाथन का कहना था कि यह समस्या करीब एक महीने तक और रहेगा जब तक नया प्याज बाजार में नहीं आ जाएगा तब तक प्याज आसमान में ही रहेगा।

सांभर बनाना भी हो गया मुश्किल
एक खरीददार आर. सुब्रमणी का कहना था कि हम कोयम्बेडु सब्जी खरीदने इसलिए आते हैं कि यहां ेबाजार में सस्ती और ताजी सब्जियां मिल जाती हैं, लेकिन प्याज का भाव तो यहां भी आसमान में ही चल रहा है। वहीं एक गृहिणी आर. नंदिता का कहना था कि प्याज का उपयोग संाभर में सबसे अधिक होता है लेकिन सांभर में गिरने वाला छोटा प्याज १४० प्रति किलो बिक रहा है जो हमारे बजट से बाहर है। मांसाहारी भोजन भी बिना प्याज के नहीं बनाया जा सकता। ऐसे में प्याज के बढ़ते दाम से गृहिणियों का बजट बिगड़ गया है।

लोग खरीद रहे स्थानीय दुकानों से
यहां उल्लेखनीय है कि प्याज के आसमान छूते भाव के कारण कई खरीददारों ने रविवार और सोमवार को प्याज कोयम्बेडु मार्केट में खरीदने के बजाय स्थानीय मार्केट में खरीदना ही मुनासिब समझा। बहरहाल चेन्नई में प्याज का भाव ७५ रुपए से १४० रुपए तक है, इसमें बड़ा प्याज ११० रुपए, मध्यम प्याज ९० रुपए, वहीं छोटा प्याज ७५ से ८० रुपए बिक रहा है। लेकिन सांभर प्याज का भाव सबसे अधिक १४० रुपए है।

Dhannalal Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned